स्वाइन फ्लू  दस्तक,एेसे रहें सावधान

  • स्वाइन फ्लू  दस्तक,एेसे रहें सावधान
You Are HerePunjab
Saturday, August 19, 2017-10:57 AM

अमृतसर  (दलजीत): स्वाइन फ्लू ने जिला में दस्तक दे दी है। स्वाइन फ्लू के लक्षणों वाले दर्जन से अधिक मरीज प्राइवेट अस्पतालों में दाखिल हैं। बीमारी को लेकर जहां लोगों में भारी दहशत पाई जा रही है, वहीं सेहत विभाग द्वारा मरीजों के लिए सिविल अस्पताल व गुरु नानक देव अस्पताल में आइसोलेशन वार्ड बना दी गई हैं। वर्ष 2015 में स्वाइन फ्लू से पीड़ित 6 मरीजों की जिले में मौत हुई थी।

 
जानकारी के अनुसार स्वाइन फ्लू का एच-1, एन-1 वायरस तेजी से पंजाब में फैल रहा है। पंजाब में अब तक 80 स्वाइन फ्लू के मामले सामने आ चुके है, जिन में से 10 के करीब मरीजों की मौत हो चुकी है। अमृतसर जिले की बात करें तो उक्त बीमारी अपने पैर पसार रही है। जिले के आधा दर्जन प्राइवेट अस्पतालों में स्वाइन फ्लू के लक्षणों वाले मरीज दाखिल हैं। 

जिले में मरीजों की बढ़ रही संख्या को लेकर सेहत विभाग द्वारा भी प्रबंध पूरे करने के दावे किए जा रहे हैं। प्राइवेट अस्पतालों से सेहत विभाग द्वारा सम्पर्क बनाकर स्वाइन फ्लू का फ्री टैस्ट मैडीकल कालेज से करवाया जा रहा है। 

 

लोगों में भारी दहशत
स्वाइन फ्लू को लेकर लोगों में भारी दहशत है। लोग बुखार, खांसी आदि होने पर परेशान हो रहे हैं। गली-मौहल्लों में खुले क्लीनिकों पर भारी भीड़ उमड़ रही है। देहात क्षेत्र में नीम-हकीम उक्त बीमारी का डर दिखाकर लोगों से मोटे पैसे वसूल रहे हैं। बीमारी के लक्षणों से लोग अवगत नहीं हैं तथा वे हलके बुखार को ही उक्त बीमारी समझ रहे है। स्वाइन फ्लू के चलते बिना डिग्री डाक्टरी पेशा करने वालों की इन दिनों चांदी हो रही है। 

 

स्वाइन फ्लू की 5 हजार गोलियां स्टॉक में
स्वाइन फ्लू को लेकर सेहत विभाग ने कमर कस ली है। विभाग द्वारा स्वाइन फ्लू की 5 हजार गोलियां स्टॉक में रख ली हैं। जिला मलेरिया अधिकारी डा. मदन मोहन ने बताया कि लोगों को बीमारी के लक्षणों संबंधी जागरूक किया जा रहा है। तहसील व जिला स्तरीय सेहत विभाग के अस्पतालों में बीमारी संबंधी विशेष वार्ड बनाई गई है। उक्त बीमारी का प्राइवेट तौर पर टैस्ट कराना तथा दवा बेहद महंगी है, परन्तु सेहत विभाग द्वारा टैस्ट तथा दवा मुफ्त दी जा रही है।  

 

हवा से फैलता है स्वाइन फ्लू
स्वाइन फ्लू की बीमारी हवा से फैलती है। उक्त बीमारी वाले लक्षणों वाले मरीज के सम्पर्क में आने वाले हर व्यक्ति को उक्त बीमारी हो सकती है। इन दिनों लोगों को मुंह पर मास्क डाल कर भीड़ में जाना चाहिए। लोगों से हाथ मिलाने से गुरेज करना चाहिए। जिन व्यक्तियों को स्वाइन फ्लू से संबंधित कोई 
भी लक्षण है तुरंत उन्हें डाक्टर के पास भेजना चाहिए। 

 

स्वाइन फ्लू के लक्षण
शहर के प्रसिद्ध वक्ष रोग विशेषज्ञ डा. रजनीश शर्मा ने बताया कि स्वाइन फ्लू के मुख्य लक्षण तेज बुखार होना, जुकाम, खांसी, बैठे-बैठे सांस फूलना, शरीर में दर्द होना, कमजोरी महसूस होना आदि है। जिन मरीजों को उक्त लक्षण है, उन्हें तुरंत डाक्टर से परामर्श करना चाहिए व सेहत विभाग के अधिकारियों को सूचित करना चाहिए। डा. रजनीश ने बताया कि स्वाइन फ्लू का इलाज समय पर संभव है। लोगों को बीमारी के लक्षणों संबंधी जागरूक रहना चाहिए।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !