मंदिर के पुजारी को कमरे में बंद कर तोड़ दी संत सूरज प्रकाश की मूर्ति

  • मंदिर के पुजारी को कमरे में बंद कर तोड़ दी संत सूरज प्रकाश की मूर्ति
You Are HerePunjab
Thursday, September 14, 2017-8:35 AM

तरनतारन (रमन): थाना गोइंदवाल साहिब के अधीन आते कस्बा फतेहाबाद में मौजूद एक मंदिर में दाखिल होकर संत सूरज प्रकाश की मूर्ति की तोडफ़ोड़ करने का मामला सामने आया है। वारदात का पता चलते ही एस.पी. इन्वैस्टीगेशन तिलक राज, डी.एस.पी. गोइंदवाल साहिब, थाना गोइंदवाल प्रभारी और ए.एस.आई. लखविन्द्र सिंह घटनास्थल पर पहुंचे। पुलिस ने इस संबंधी 3 आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज करके उनकी तलाश शुरू कर दी है।

कस्बा फतेहाबाद के नजदीकी गांव ख्वासपुर के माता रानी मंदिर की कमेटी के अध्यक्ष राजिन्द्र कुमार पुत्र सागर देव निवासी ख्वासपुर ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि सुबह 5 बजे उनको मंदिर पुजारी दिनेश शर्मा पुत्र मान शर्मा निवासी गांव आदमपुर जिला मथुरा ने फोन करके बताया कि वह कमरे में सोया हुआ था और किसी ने कमरे को बाहर से ताला लगा दिया। इसके बाद वह अपने बेटे विशाल को साथ लेकर मंदिर में तुरंत पहुंचे। मंदिर के गेट का ताला टूट देख वह हैरान रह गए और कमरे की लाइट जलती पाई गई। मंदिर कमेटी की सहमति से मंदिर में रखी संत सूरज प्रकाश की मूर्ति उस जगह से हटाकर नीचे फैंकी हुई थी व मूर्ति के दोनों हाथ और सिर तोड़ दिए गए थे। 

मंदिर में मूर्ति लगाने से रोकते थे आरोपी
राजिन्द्र कुमार ने बताया कि इस वारदात के पीछे रमन कुमार, रवि कुमार पुत्र सुखनंदन कुमार निवासी फतेहाबाद और प्रभा शर्मा पत्नी कुलदीप शर्मा निवासी फतेहाबाद का हाथ है क्योंकि रवि कुमार और रमन कुमार संत सूरज प्रकाश की मूॢत स्थापित करने से रोकते थे और कमेटी सदस्यों ने इनको पहले भी कई बार समझाया था।चौकी फतेहाबाद के इंचार्ज ए.एस.आई. लखविन्द्र सिंह ने बताया कि इस संबंधी थाना गोइंदवाल साहिब में उक्त तीनों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज करके आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है। एस.पी. तिलक राज का कहना है कि मंदिर कमेटी अध्यक्ष के बयानों पर मूॢत से छेड़छाड़ और तोडऩे संबंधी मामला दर्ज कर लिया गया है और इस संबंधी बारीकी से जांच करते हुए आरोपियों को काबू कर लिया जाएगा। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!