साफ्टवेयर में अभी तक अपडेट नहीं हुए सैक्रेटरी RTA के डिजीटल हस्ताक्षर

  • साफ्टवेयर में अभी तक अपडेट नहीं हुए सैक्रेटरी RTA के डिजीटल हस्ताक्षर
You Are HerePunjab
Thursday, August 24, 2017-2:48 AM

जालंधर(अमित): प्रदेश सरकार द्वारा भ्रष्टाचार का गढ़ बन चुके डी.टी.ओ. कार्यालयों को बंद करने का नोटीफिकेशन जारी होने के बाद से अब तक डी.टी.ओ. कार्यालय का सारा कामकाज लगभग ठप्प हो चुका है। आधुनिक ड्राइविंग टैस्ट ट्रैक पर भी कामकाज लगभग बंद है क्योंकि डी.टी.ओ. की पोस्ट खत्म होने के कारण दस्तावेजों पर किसी भी अधिकारी द्वारा साइन नहीं हो पा रहे। 

लर्निंग लाइसैंस की डाक पैंडिंग पड़ी है। निजी कंपनी के कर्मचारियों द्वारा लर्निंग लाइसैंस का प्रिंट निकालने के बाद संबंधित क्लर्क ने तो अपने हस्ताक्षर कर दिए हैं मगर आर.टी.ए. के हस्ताक्षर न होने की वजह से काफी बड़ी गिनती में लॄनग लाईसैंस आवेदकों को डिलीवर नहीं किए जा सके हैं। स्कूटर-कार का ड्राइविंग टैस्ट देकर बनने वाले पक्के ड्राइविंग लाइसैंस में भी किसी अधिकारी के साइन न होने की वजह से आवेदन पैंडिंग पड़े हैं। पूर्व ए.डी.टी.ओ. प्यारा सिंह द्वारा भी डाक साइन नहीं की जा रही है और सैक्रेटरी आर.टी.ए. दरबारा सिंह द्वारा भी साइन नहीं होने के कारण आम जनता को अपने डी.एल. के लिए इधर-उधर भटकना पड़ रहा है। 

रिन्यूवल लाइसैंस की डाक भी बड़ी गिनती में पैंडिंग हो चुकी है, आवेदक की फोटो तो की जा रही है, मगर लाइसैंस का प्रिंट नहीं निकल पा रहा है। सैंकड़ों की गिनती में पुराने आवेदनों के भी प्रिंट इसी वजह से रुके हुए हैं, क्योंकि जब तक सैक्रेटरी आर.टी.ए. सारी फाइलों पर साइन नहीं कर देते, तब तक किसी भी लाइसैंस का प्रिंट निकालना संभव नहीं है। इसके साथ ही पुराने अधिकारियों की जगह सैक्रेटरी आर.टी.ए. के डिजीटल हस्ताक्षर जब तक साफ्टवेयर में अपडेट नहीं हो जाते हैं, तब तक लाइसैंस को लेकर कोई भी काम करना संभव ही नहीं है। निजी कंपनी के कुछ कर्मचारी डाक साइन न होने की वजह से लगभग सारा दिन खाली बैठकर समय गुजार रहे हैं।

पुरानी और नई डाक को लेकर भी असमंजस की स्थिति बरकरार
डी.टी.ओ. की पोस्ट खत्म करने के बाद पुरानी पैंडिंग डाक और नई डाक को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है। सूत्रों के अनुसार पुरानी पैंडिंग पड़ी डाक पर ए.डी.टी.ओ. प्यारा सिंह द्वारा साइन किए जाने हैं, क्योंकि उस समय ए.डी.टी.ओ. द्वारा ही सारे हस्ताक्षर किए जाते थे मगर प्यारा सिंह द्वारा यह कह कर साइन करने से इंकार किया जा रहा है कि वह अब किसी भी हाल में साइन कर ही नहीं सकते। 

वाहनों की रजिस्ट्रेशन का काम भी रुका, बड़ी गिनती में आर.सी. हुईं पैंडिंग
किसी अधिकारी द्वारा हस्ताक्षर न होने की वजह से नए वाहनों की रजिस्ट्रेशन का काम भी बाधित हो रहा है। बहुत बड़ी गिनती में आर.सी. की डाक पैंडिंग हो चुकी है और आवेदकों को उनके वाहनों की आर.सी. नहीं मिल पा रही है।

इंटरनैशनल ड्राइविंग लाइसैंस को लेकर हो रही दिक्कत
इंटरनैशनल ड्राइविंग लाइसैंस को लेकर भी डी.टी.ओ. कार्यालय में काफी दिक्कत पेश आ रही है क्योंकि बहुत से विद्यार्थी ऐसे हैं जो विदेश में पढ़ाई के सिलसिले में जा रहे हैं और उन्हें वहां वाहन चलाने के लिए इंटरनैशनल ड्राइविंग लाइसैंस बनवाना अनिवार्य है, मगर डी.टी.ओ. कार्यालय में काम के रुके होने की वजह से ऐसे विद्यार्थियों को बिना लाइसैंस के ही विदेश जाना पड़ रहा है या फिर कई विद्यार्थियों ने अपनी टिकट कुछ दिन आगे करवाई है ताकि वह लाइसैंस लेकर ही जा सकें।

पैंडिंग काम निपटाने के निर्देश जारी: दरबारा सिंह
सैक्रेटरी आर.टी.ए. दरबारा सिंह से जब इस बारे में बात की गई तो उन्होंने कहा कि बुधवार सुबह उन्होंने ट्रैक और डी.टी.ओ. दफ्तर का दौरा किया है और वहां होने वाले सारे कामकाज की जानकारी प्राप्त की है। उन्होंने स्टाफ को निर्देश जारी किए हैं कि पैंडिंग काम जल्दी से जल्दी निपटाए जाएं और किसी भी कीमत पर जनता का कोई भी काम रुकना नहीं चाहिए। यहां तक पुराने पैंडिंग आवेदनों का सवाल है उन्होंने बताया कि ए.डी.टी.ओ. प्यारा सिंह की चंडीगढ़ में ड्यूटी थी, वहां से आते ही गुरुवार को सारी डाक निपटा दी जाएगी।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !