शीतल ग्रुप की फर्म के 2 कर्मचारी काबू, 3 लाख बरामद

  • शीतल ग्रुप की फर्म के 2 कर्मचारी काबू, 3 लाख बरामद
You Are HerePunjab
Thursday, December 15, 2016-10:02 AM

जालंधर(प्रीत): शीतल ग्रुप से संबंधित चिराग फोर्जिग 2 कर्मचारियों को आज शाम ई.डी. अधिकारियों ने सिटी अस्पताल चौक से काबू कर लिया। पिजैरो गाड़ी में सवार उक्त कर्मचारियों से ई.डी. अधिकारियों ने सर्च के दौरान 3 लाख रुपए और विद्ड्राल के दस्तावेज बरामद किए हैं। अभी ई.डी. अधिकारी दोनों कर्मचारियों को लेकर दफ्तर पहुंचे ही थे कि कुछ ही देर बाद शीतल विज खुद ई.डी. दफ्तर पहुंच गया। करीब एक घंटे बाद शीतल विज वहां से चला गया। देर रात तक ई.डी. द्वारा दोनों कर्मचारियों के अतिरिक्त पी.एन.बी. के मैनेजर व असिस्टैंट मैनेजर से पूछताछ की जा रही थी। जानकारी के मुताबिक कूल रोड पर स्थित लाजवंती अस्पताल के साथ ही ई.डी. दफ्तर है। उसी बिल्डिंग की ग्राऊंड फ्लोर पर पंजाब नैशनल बैंक की ब्रांच है। आज शाम करीब 6 बजे बैंक की ब्रांच से 2 युवक निकले जिनके पास कथित तौर पर भारी मात्रा में नए नोट थे। उक्त लोग पिजैरो गाड़ी नंबर पी.बी. 08 बी.एच. 9342 में बैठकर चुनमुन चौक की तरफ चले गए। इसी बीच ई.डी. के ई.ओ. तथा पुलिस कर्मचारियों ने उक्त गाड़ी का पीछा किया और चुनमुन चौक पर उक्त गाड़ी को घेर लिया। 

 

मौके पर पहुंच  बरामद की नकदी
गाड़ी में ड्राइवर के साथ 2 और व्यक्ति सवार थे। ई.डी. अधिकारी उक्त लोगों को पकड़ कर ई.डी. दफ्तर ले आए। पिजैरो गाड़ी में से मौके पर नकदी बरामद की गई। ई.डी. टीम ने उक्त लोगों को हिरासत में ले लिया और नकदी तथा गाड़ी काब्त कर ली। अभी जांच शुरू ही हुई थी कि अचानक शीतल विज खुद ई.डी. दफ्तर पहुंच गया। करीब एक घंटे तक शीतल विज दफ्तर में रहा। प्रारम्भिक जांच के दौरान ई.डी. अधिकारियों ने पंजाब नैशनल बैंक के ब्रांच मैनेजर बी.के. शर्मा और असिस्टैंट मैनेजर गुरदयाल सिंह को भी दफ्तर बुला लिया। उक्त बैंक में नियमों के विरुद्ध नोटों की अदला-बदली हो रही थी। देर रात तक ई.डी. अधिकारी मामले की जांच कर रहे थे।

 

चौथे चक्कर में पकड़े गए कर्मचारी, बुलेट प्रूफ गाड़ी में हो रही थी ट्रांजैक्शन
सूत्रों के मुताबिक देर शाम ई.डी. टीम द्वारा पकड़ी गई पिजैरो गाड़ी बुलेट प्रूफ है। बताया जा रहा है कि उक्त गाड़ी में सवार कर्मचारी कई बार आज बैंक आए और गए। बताया जा रहा है कि गाड़ी चौथे चक्कर में ई.डी. टीम के हत्थे चढ़ी। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक दिन में जितनी बार भी उक्त पिजैरो गाड़ी यहां से गई, गाड़ी में बैंक अधिकारी भी मौजूद रहे। हरेक चक्कर में बैंक मैनेजर या असिस्टैंट मैनेजर साथ था। चर्चा है कि दिन में भारी-भरकम नोट बदले गए हैं। दिन में कई चक्कर लगाने के कारण लोगों की नकार उक्त गाड़ी पर थी। जैसे ही शाम के समय गाड़ी वहां से एक बार फिर निकली तो शिकायत मिलने पर ई.डी. टीम ने उन्हें काबू कर लिया।


फर्म के हैं 2 लाख रुपए, अपना पक्ष बता दिया है ई.डी. को : शीतल
करीब एक घंटे बाद ई.डी. दफ्तर से बाहर आए शीतल विज ने कहा कि दोनों कर्मचारी उनके बेटे की फर्म चिराग फोॄजग के कर्मचारी हैं। उनके पास 2 लाख रुपए के नए नोट थे। ई.डी. टीम ने उन्हें पकड़ा तो वह अपना पक्ष बताने के लिए खुद ई.डी. दफ्तर पहुंच गए। विज ने कहा कि उन्होंने अपना पक्ष बता दिया है, उक्त मामला इंकम टैक्स विभाग को ट्रांसफर किया जा रहा है। 


कूल रोड से पैदल ही गुरु नानक मिशन चौक की तरफ निकल पड़ा शीतल विज
करीब 7 बजे शीतल विज अपनी गाड़ी से ई.डी. दफ्तर पहुंचा। कुछ देर तो गाड़ी दफ्तर के बाहर रुकी रही लेकिन मीडिया को एकत्र होता देख गाड़ी वहां से चली गई। करीब 8 बजे शीतल विज ई.डी. दफ्तर से नीचे उतरा तो वह तेजी से अपनी गाड़ी की तरफ बढ़ा लेकिन हैरानीजनक यह रहा कि उसकी गाड़ी वहां नहीं थी। शीतल पत्रकारों व छायाकारों से बातचीत करता हुआ पैदल ही बी.एम.सी. चौक की तरफ चल पड़ा। लेकिन जब गाड़ी नहीं मिली तो वह पैदल ही गुरु नानक मिशन चौक की तरफ चलता गया। ए.पी.जे. कालेज चौक के निकट एक गाड़ी उसके पास आकर रुकी जिसमें बैठकर वह चला गया।

 

बैंक ब्रांच बंद करके भागे अधिकारी, ई.डी. से गया फोन तो उलटे पांव लौटे दफ्तर
शाम के समय जैसे ही पंजाब नैशनल बैंक अधिकारियों को पता चला कि नई करंसी लेकर निकले पिजैरो गाड़ी में सवार व्यक्ति ई.डी. के हत्थे चढ़ गए हैं तो उसी क्षण बैंक अधिकारी ब्रांच बंद करके खिसक गए। बैंक अधिकारियों ने कुछ ही मिनटों में ताले लगा दिए। जब ई.डी. अधिकारियों ने जांच में पाया कि पंजाब नैशनल बैंक से ही उक्त करंसी बदली गई है तो ई.डी. अधिकारियों ने बैंक अधिकारियों को फोन किया। फोन जाते ही बैंक मैनेजर बी.के. शर्मा और असिस्टैंट मैनेजर गुरदयाल सिंह कुछ ही मिनटों में उलटे पांव वापस लौट आए।

 

हमने नहीं बुलाया, शीतल खुद पहुंचा दफ्तर: गिरिश बाली
ई.डी. के ज्वाइंट डायरैक्टर गिरिश बाली ने बताया कि अधिकारी सारे मामले की जांच कर रहे हैं। ई.डी. अधिकारियों ने गाड़ी में सवार 2 युवकों को हिरासत में लिया है। उक्त लोगों के पास से कुल 3 लाख रुपए बरामद किए गए हैं जिनमें से 2 लाख रुपए के नए और बाकी पुराने नोट हैं। युवकों से पंजाब नैशनल बैंक से करवाए गए कैश विद्ड्राल के काफी अकाऊंट्स के दस्तावेज भी मिले हैं। बाली ने बताया कि ई.डी. टीम उक्त सभी दस्तावेज, अकाऊंट्स इत्यादि चैक कर रही है। जांच के लिए बैंक अधिकारियों को भी बुलाया गया है। प्रारम्भिक जांच यही की जा रही है कि कैश विद्ड्राल नियमों के मुताबिक है कि नहीं? शीतल विज के दफ्तर पहुंचने संबंधी गिरिश बाली ने बताया कि ई.डी. ने शीतल विज को नहीं बुलाया था वह खुद ही ई.डी. दफ्तर पहुुंचा और अपना पक्ष रखा। शीतल विज द्वारा केस इंकम टैक्स को ट्रांसफर करने संबंधी पूछने पर बाली ने कहा कि फिलहाल ई.डी. अधिकारी उक्त 2 कर्मचारियों तथा बैंक अधिकारियों की स्टेटमैंट रिकार्ड कर रहे हैं, जांच पूरी होने के पश्चात ही अगली कार्रवाई होगी। 


 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!