सब्जी बेच कर गुजारा न हुआ तो बेचने लगा पिस्तौलें

  • सब्जी बेच कर गुजारा न हुआ तो बेचने लगा पिस्तौलें
You Are HerePunjab
Tuesday, July 18, 2017-2:50 AM

जालंधर(राजेश): सब्जी बेच कर घर का गुजारा न होने के कारण सब्जी विक्रेता ने यू.पी. से पिस्तौलें लाकर सप्लाई करने का धंधा शुरू कर दिया जो पिस्तौल आगे ग्राहक को बेचने से पहले ही पुलिस के हत्थे चढ़ गया। ए.सी.पी. वैस्ट कैलाश चंद्र ने बताया कि भार्गव कैंप के इंस्पैक्टर जीवन सिंह के आदेशों पर ए.एस.आई. सतनाम सिंह ने माडल हाऊस में नाकाबंदी के दौरान मोटरसाइकिल सवार युवकों की शक के आधार पर तलाशी ली तो उनके पास से 32 बोर की नाजायज पिस्तौल, 2 राऊंड व नशीले कैप्सूल बरामद हुए। 

पकड़े गए युवकों की पहचान फारू क पुत्र हाकम अली निवासी 50 बी ब्लाक न्यू दशमेश नगर व मनप्रीत उर्फ मनी पुत्र गुरमीत राम निवासी गांव सलोह जिला शहीद भगत सिंह नगर के रूप में हुई। इंस्पैक्टर जीवन सिंह ने बताया कि फारू क के पास से नाजायज पिस्तौल व 260 नशीली गोलियां तथा पीछे बैठे युवक मनप्रीत की तलाशी लेने पर उसके पास से 245 नशीली गोलियां बरामद हुईं। फारूक जो कि सब्जी बेचकर घर का गुजारा चलाता था पर काम में मंदी होने के कारण उसने यू.पी. से 20 हजार रुपए में पिस्तौल लाकर आगे 40 हजार में बेचनी थी पर इससे पहले ही वह पुलिस के हत्थे चढ़ गया। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!