रेत-बजरी के दाम गिरने से 19 खड्डों के लिए किसी ने बोली नहीं लगाई

  • रेत-बजरी के दाम गिरने से 19 खड्डों के लिए किसी ने बोली नहीं लगाई
You Are HerePunjab
Wednesday, November 29, 2017-8:38 AM

जालंधर(धवन): पंजाब में रेत-बजरी के दाम गिरने से 19 खड्डों के लिए किसी ने भी बोली नहीं लगाई है। उद्योग विभाग ने गत दिनों रेत खड्डों के लिए बोलियां ऑनलाइन आमंत्रित की थीं, परन्तु 19 रेत खड्डों की नीलामी नहीं हो सकी। कुछ मामलों में केवल एक ही बोलीदाता आगे आया जबकि कुछ में कोई भी बोलीदाता आगे नहीं आया। 
6 महीने पहले राज्य में रेत के दाम 2500 रुपए प्रति 100 क्यूबिक फुट चल रहे थे, जो अब गिरकर 2000 रुपए प्रति 100 क्यूबिक फुट पर आ गए हैं।

बजरी के दामों में भी गिरावट का रुख देखा गया है। 6 महीने पहले बजरी के दाम 3500 रुपए प्रति 100 क्यूबिक फुट थे, जोकि अब 2600 से 2800 रुपए प्रति 100 क्यूबिक फुट रह गए हैं। सरकारी हलकों से पता चला है कि रेत-बजरी के दामों में आ रही गिरावट को देखते हुए सरकार ने 20 रेत खड्डों की नीलामी का कार्य रखा था, उसके लिए आरक्षित कीमत 5.14 करोड़ रुपए रखी गई थी। अधिकांश रेत खड्डों के लिए आरक्षित कीमत 1 करोड़ से कम रखी गई थी। जब किसी रेत खड्ड के लिए केवल एक बोलीदाता द्वारा बोली लगाई जाती है तो उसकी नीलामी उद्योग विभाग द्वारा नहीं की जाती। राज्य में मुख्यमंत्री कै. अमरेन्द्र सिंह के नेतृत्व में कांग्रेस सरकार बनने के बाद पहली बार पिछले 6 महीनों में रेत खड्डों के दामों में गिरावट का रुख देखा जा रहा है।

मुख्यमंत्री अमरेन्द्र सिंह ने भी कुछ समय पहले बयान दिया था कि जब सप्लाई में बढ़ौतरी होगी तो दामों में गिरावट का रुख शुरू हो जाएगा।सरकारी हलकों ने बताया कि अब पंजाब की रेत खड्डों के साथ-साथ हिमाचल प्रदेश तथा हरियाणा से भी रेत-बजरी की सप्लाई पंजाब में शुरू हो गई है। इस तरह से सप्लाई में बढ़ौतरी देखी जा रही है, जिसका असर आने वाले समय में भी रेत-बजरी के दामों पर पडऩे के आसार हैं। अगर और गिरावट का रुख जारी रहता है तो इससे राज्य में कंस्ट्रक्शन गतिविधियों को बढ़ावा मिल सकता है। रेत-बजरी के दामों में गिरावट का रुख जनता के लिए अवश्य ही राहत वाली बात है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!