सेल टैक्स विभाग ने दिखाई दरियादिली, बिना जुर्माना किए छोड़ी 52 किलो चांदी

  • सेल टैक्स विभाग ने दिखाई दरियादिली, बिना जुर्माना किए छोड़ी 52 किलो चांदी
You Are HerePunjab
Friday, December 16, 2016-8:49 AM

अमृतसर (इन्द्रजीत): साधारणतया सेल टैक्स विभाग जुर्माना वसूले बिना व्यापारियों को छोड़ता नहीं है और छोटी-छोटी गलती भी लाखों रुपए का जुर्माना व्यापारी को ठोक देता है। व्यापारी चाहे जितनी भी सावधानी से दस्तावेज बनाए, बिक्रीकर विभाग वाले कोई न कोई गलती निकालकर व्यापारी की गर्दन पर घुटना रख ही देते हैं। इसके विपरीत रेलवे स्टेशन के आई.सी.सी. बैरियर पर तैनात ई.टी.ओ. हरमिन्द्र सिंह बाठ व उनके साथ दूसरे स्टाफ ने रहमदिली दिखाते हुए एक ऐसे व्यापारी को बड़े जुर्माने से बचा लिया, जिसके पास 52 किलो चांदी के जेवर थे, किन्तु व्यापारी के पास बिल नहीं था।

क्या था मामला?
बीते दिनों रेलवे स्टेशन के आई.सी.सी. बैरियर पर तैनात ई.टी.ओ. हरमिन्द्र बीर सिंह बाठ ने 2 ऐसे युवकों को काबू किया, जो रेलवे स्टेशन के बाहर 52 किलो चांदी के जेवरा ले जाने वाले थे। उस समय ई.टी.ओ. अपने स्टाफ के इंस्पैक्टरों व फोर्स के जवानों के साथ तैनात थे। माल पकड़े जाने पर उसके वैल्युएशन पर जुर्माना लगाया जाना था, जो कम से कम 6 लाख रुपए बनता था। इसी बीच व्यापारी ने बताया कि उसके पास माल का बिल है, जिसे विभाग को भिजवा दिया गया था, किन्तु मौके पर बिल नहीं था।

सेल टैक्स अधिकारी ने जांच-पड़ताल की तो उसे पता चला कि व्यापारी की मंशा टैक्स चोरी करने की नहीं थी, जबकि उससे गलती अवश्य हुई है। हालांकि विभाग इस प्रकरण पर अड़ भी सकता था, किन्तु बिक्रीकर अधिकारी ने अपने उच्चाधिकारियों से परामर्श करके निवेदन किया कि माल व्यापारी के हवाले बिना जुर्माने के कर दिया जाए। उच्चाधिकारियों के निर्देश पर ई.टी.ओ. ने बिना जुर्माने के व्यापारी के जेवर वापस कर दिए।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!