'किसानों के लिए अाप ने चलाया राहत कोष,कांग्रेस सरकार के मुंह पर तमाचा'

  • 'किसानों के लिए अाप ने चलाया राहत कोष,कांग्रेस सरकार के मुंह पर तमाचा'
You Are HerePunjab
Wednesday, August 23, 2017-9:04 AM

मानसा/संगरुरः पंजाब सरकार के कर्ज माफी के एेलान के बावजूद भी किसान लगातार खुदकुशी कर रहे हैं। इसके बावजूद सरकार पीड़ित परिवारों को कोई सुविधा नहीं दे रही। उक्त विचार मानसा के पीड़ित परिवारों से मिलने पहुंचे अाप नेताअों ने व्यक्त किए।

इस दौरान उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी द्वारा खुदकुशी कर चुके  किसानों के परिजनों को 50 हजार  रुपए प्रति परिवार और 2500  रुपए प्रति महीना  पेंशन के रूप में  दिए जाएंगे। अाप के विधानसभा में विपक्ष के नेता सुखपाल खैहरा और सुनाम से विधायक अमन अरोड़ा ने अाज मानसा जिले के दर्जन  पीड़ित किसानों के परिजनों से भेंट की।


पंजाब में किसान खुदकुशियों  को लेकर सियासत लगातार गर्मा रही है। पंजाब सरकार की ओर से किसानों के कर्ज माफी को लेकर अभी तक कोई फैसला ना लिए जाने के कारण किसानों में भारी रोष पाया जा रहा है लेकिन आम आदमी पार्टी ने एन.आर.आई.एन  की मदद से किसान खेत मजदूर बचाओ राहत कोष स्थापित किया है जिसमें खुदकुशी कर चुके किसानों के 20 परिवारों को 50 हजार रुपए प्रति परिवार दिए जाएंगे जबकि 50 परिवारों को अढाई हजार रुपए प्रति महीना पेंशन के रूप में दिए जाएंगे । यह राशि  भटिंडा में करवाए जा रहे एक समारोह दौरान दी जाएगी। 
 

सुखपाल खैहरा ने कहा कि आम आदमी पार्टी की ओर से बनाया गया राहत कोष पंजाब सरकार के मुंह पर तमाचा है और हमने सरकार को जगाने की कोशिश की है। उन्होंने कहा कि सी.एम.कैप्टन अमरेंद्र सिंह दिल्ली सिर्फ गुलदस्ता लेकर चले जाते हैं लेकिन वहां से खाली हाथ लौट आते हैं क्योंकि दिल्ली में उनकी कोई बात नहीं सुनता। सुखपाल खैहरा ने पंजाब के किसानों को अपील की है कि वह खुदकुशी ना करें क्योंकि पंजाब का किसान बहादुरी और हिम्मत के लिए जाना जाता है

 

अाप नेता ने कहा कि डेरा सच्चा सौदा  प्रमुख गुरमीत राम रहीम के ऊपर चल रहे केस की सुनवाई से पंजाब की अमन शांति को भंग नहीं होना चाहिए क्योंकि अदालत का फैसला मानना हर नागरिक का कर्तव्य है। सुनाम से विधायक अमन अरोड़ा ने भी कांग्रेस सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि सरकार किसानों की कर्ज माफी का बड़ा ऐलान कर सत्ता में आई  मगर उसने किसानों के लिए  कुछ नहीं किया

  

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !