रीना ने दी दुहाई: कोई बहन न जाए सऊदी अरब

  • रीना ने दी दुहाई: कोई बहन न जाए सऊदी अरब
You Are HerePunjab
Sunday, November 19, 2017-12:47 AM

टांडा उड़मुड़(पंडित): रोजी-रोटी की तलाश में सऊदी अरब जाकर शेख के परिवार के चंगुल में फंसी टांडा के गांव बोदल कोटली की रीना शनिवार शाम को शाम रिहा होकर अपने घर वापस पहुंची। रीना की घर वापसी से परिवार में खुशी का आलम था। अपने पति किशन राज, बेटे हीरे और बेटी नवजोत कौर के गले लग रोते हुए उसने राहत की सांस ली और आपबीती सुनाई। 

16 अक्तूबर 2016 को अपने घर को गरीबी से उबारने की चाहत लेकर सऊदी अरब पहुंची रीना को शेख के परिवार ने घर में बंधक बना काम करवाया और उसके साथ अमानवीय व्यवहार कर मारा-पीटा व खाना भी नहीं दिया। उसने बताया कि पहले 3 महीने शेख के परिवार ने 25,000 की बजाय 15,000 रुपए सैलरी दी, बाद में तंग करना शुरू कर दिया। तंगी के चलते अढ़ाई महीने सोशल मीडिया पर मैसेज कर उसने अपनी दुख भरी दास्तां सुनाने के बाद रीना ने व्हाट्स एप संदेश के माध्यम से सुषमा स्वराज और सांसद भगवंत मान से मदद की गुहार लगाई थी। 

रीना का वीडियो वायरल होने के बाद विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और भगवंत मान ने रीना को शेख के चंगुल से निकाल भारत लाने के लिए प्रयास शुरू किए थे जिसके चलते वह आज अपने परिवार के पास पहुंच पाई है। भारतीय दूतावास की मदद से रीना एक महीने लेबर कोर्ट की निगरानी में रही। रीना ने दुहाई देते हुए कहा कि जो उसके साथ हुआ वह किसी के साथ न हो इसलिए कोई भी सऊदी अरब न जाए और खासकर उसकी महिला बहनें कभी भी वहां जाने की न सोचें। उसने घर वापसी के लिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और भगवंत मान का आभार जताया।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!