पटवारखाने का फिर कटा बिजली कनैक्शन, स्थिति बेहाल

  • पटवारखाने का फिर कटा बिजली कनैक्शन, स्थिति बेहाल
You Are HerePunjab
Tuesday, April 18, 2017-10:43 AM

अमृतसर(महेन्द्र):रैवेन्यू पटवारखाने में बिजली का लगभग 5 से 6 लाख रुपए का बिल अदा न करने पर प्रदेश पावर निगम ने यहां का बिजली कनैक्शन गत दिवस एक बार फिर काट दिया। इस कारण पटवारखाने में लगे पंखे व लाइट पिछले कई दिनों से बंद हैं। जहां रैवेन्यू पटवारियों के लिए इतनी भीषण गर्मी में बिना लाइट व बिना पंखों के काम करना बहुत मुश्किल हो गया है, वहीं आम जनता भी त्राहि-त्राहि कर रही है।

उल्लेखनीय है कि हाल ही में हुए विधान सभा चुनावों से पहले चुनाव आचार संहिता लागू होने के दौरान पंजाब प्रदेश पावर निगम ने उच्चाधिकारियों, राजनीतिज्ञों के साथ-साथ सरकारी कार्यालयों के जिम्मे बिजली बिलों की पैंङ्क्षडग रिकवरी को देखते हुए उनके बिजली के कनैक्शन काट दिए थे जिसके तहत अमृतसर के रैवेन्यू पटवारखाने का भी बिजली का कनैक्शन काट दिया गया था। सूत्रों के अनुसार पटवारखाने में लगे बिजली कनैक्शन का 5 से 6 लाख रुपए का बिजली का बिल जमा हो चुका था जिस पर पावर निगम ने यहां का बिजली कनैक्शन काट कर बिजली की सप्लाई बंद कर दी थी। 

डिप्टी कमिश्नर ने कुछ दिन पहले शुरू करवाई थी बिजली सप्लाई
फिलहाल पटवारखाने में मौजूद कुछ रैवेन्यू पटवारियों में से कोई भी इस पर बात करने को तैयार नहीं था, लेकिन कुछ ने अपना नाम न प्रकाशित करने की शर्त पर बताया कि करीब 5 से 6 लाख रुपए का बिजली का बिल पैंडिंग हो जाने पर पावर निगम ने उनके पटवारखाने का बिजली कनैक्शन काट कर बिजली की सप्लाई बंद कर दी थी। उन्हें तथा आम जनता को पेश आ रही परेशानियों को देखते हुए डिप्टी कमिश्नर कमलदीप सिंह संघा ने पावर निगम के अधिकारियों से बातचीत कर कुछ दिन पहले पटवारखाने की बिजली की सप्लाई बहाल करवा दी थी, लेकिन पावर निगम को बिजली के बिल का भुगतान न करने पर पावर निगम स्थानीय रैवेन्यू पटवारखाने की बिजली की सप्लाई पुन: काट दी है जिससे न सिर्फ पटवारियों को, बल्कि आम जनता को भी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। 

इस संबंध में डिप्टी कमिश्नर कमलदीप सिंह संघा को जब जानकारी दी गई, तो उन्होंने कहा कि पटवारखाने का बिजली कनैक्शन दोबारा कटने के बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं है। वह इसका पता लगवा कर कोई उचित समाधान निकालेंगे। उन्होंने कहा कि इससे पहले पावर निगम से कहा गया था कि बिजली के बिल का भुगतान तो सरकार से रुपए आने पर ही किया जाना है और रुपए आते ही बिजली के बिल का भुगतान कर दिया जाएगा, लेकिन बिजली कनैक्शन दोबारा क्यों काट दिया गया है? इसके बारे में भी वह पावर निगम के अधिकारियों से बातचीत करके पटवारखाने की बिजली सप्लाई पुन: बहाल करवाएंगे।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!