इतिहास के सबसे गंभीर आर्थिक संकट से गुजर रहा है पंजाब : मनप्रीत

  • इतिहास के सबसे गंभीर आर्थिक संकट से गुजर रहा है पंजाब : मनप्रीत
You Are HerePunjab
Wednesday, December 06, 2017-9:14 AM

चंडीगढ़ (पराशर): पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने कहा है कि प्रदेश इस समय अपने इतिहास के सबसे गंभीर आॢथक संकट से गुजर रहा है, जिससे उभरने के लिए अमरेंद्र सरकार हरसंभव कोशिश कर रही है। मंगलवार को यहां पत्रकारवार्ता में मनप्रीत बादल ने कहा कि इस गहरे वित्तीय संकट की मुख्य वजह पिछली अकाली-भाजपा सरकार का राज्य के प्रति गैर-जिम्मेदाराना रवैया है जिसके चलते उसने लगातार बिगड़ती आॢथक स्थिति के प्रति जानबूझकर आंखें मूंदे रखीं।

 

जब अकाली-भाजपा गठबंधन को यह लगने लगा कि वह पुन: सत्ता में नहीं आ सकेगा तो उसने सब कुछ गिरवी रख दिया। रूरल डिवैल्पमैंट फंड और मंडी बोर्ड की अगले 5 साल की आय को बैंकों के पास गिरवी रख दिया गया। इतना ही नहीं, पंजाब इंफ्रास्ट्रक्चर डिवैल्पमैंट बोर्ड की भी आय को इसी प्रकार गिरवी रख दिया गया। 

 


वहीं फूड अकाऊंट के 31,000 करोड़ रुपए के घाटे को ऋण में तबदील कर दिया गया। इसके चलते अब नई सरकार को प्रतिमाह 270 करोड़ रुपए की किस्त बैंकों को देनी पड़ती है। यह 3200 करोड़ रुपए प्रति वर्ष का बोझ बड़ी आसानी से टाला जा सकता था।

 

जी.एस.टी. अच्छा टैक्स
एक प्रश्न के उत्तर में मनप्रीत बादल ने कहा कि जी.एस.टी. एक अच्छा टैक्स है, इसके अच्छे परिणाम आने शुरू हो गए हैं। वित्त मंत्री ने कहा कि पंजाब को केंद्र से जी.एस.टी. में अपना हिस्सा मिलना शुरू हो गया है। राज्य सरकार कर्मचारियों के वेतन, पैंशन तथा कर्जों की किस्तों का भुगतान लगातार कर रही है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!