800 स्कूलों को बंद करने के फैसले को लेकर नरम पड़ी कैप्टन सरकार, प्री-प्राइमरी कक्षाओं का  आगाज

  • 800 स्कूलों को बंद करने के फैसले को लेकर नरम पड़ी कैप्टन सरकार, प्री-प्राइमरी कक्षाओं का  आगाज
You Are HerePunjab
Wednesday, November 15, 2017-10:44 AM

मोहाली (नियामियां): शिक्षा मंत्री अरुणा चौधरी ने  फेज-7 के सरकारी एलीमैंटरी स्कूल में रंगारंग समागम के दौरान प्री-प्राइमरी कक्षाओं का औपचारिक आगाज किया। 

 

बाल दिवस के अवसर पर स्कूल कैंपस में हुए रंगारंग समागम में प्राइमरी के बच्चों ने अपनी प्रस्तुति से सबको मोहित कर दिया। समागम में चौधरी ने कहा कि प्री-प्राइमरी कक्षाओं की शुरूआत की गई है और यह शुरूआत करने वाला पंजाब देश का पहला प्रदेश है। उन्होंने इसका श्रेय मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह को देते हुए कहा कि शिक्षा प्रबंध मजबूत करने की दिशा में यह अहम कदम है। उन्होंने कहा कि राज्य के समूह 12,500 स्कूलों में आज प्री-प्राइमरी कक्षाओं की शुरूआत हो गई। आज तक 1.5 लाख बच्चों ने प्री-प्राइमरी कक्षाओं में दाखिला ले लिया जो नर्सरी, एल.के.जी. और यू.के.जी. कक्षाओं में दाखिल हुए हैं। 

 

शिक्षा विभाग द्वारा 30 नवम्बर तक ये दाखिले किए जाएंगे। इस प्रोजैक्ट को ‘खेल महल’ का नाम दिया गया जिसको शिक्षा और सामाजिक सुरक्षा, स्त्री एवं बाल विकास विभाग मिलकर चलाएंगे। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी वर्करों और हैल्परों का काम प्रभावित नहीं होगा और वे पहले की तरह ही अपनी ड्यूटी करेंगी।  उन्होंने कहा कि इन कक्षाओं में बच्चों की पढ़ाई पूर्ण तौर पर मुफ्त होगी और खेलने व सीखने की सामग्री भी नि:शुल्क दी जाएगी। कक्षाओं का समय कुल 3 घंटे होगा। गर्मियों में सुबह 8:30 से 11:30 बजे तक और सॢदयों में सुबह 9:30 से दोपहर 12:30 बजे तक होगा।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!