40 हजार रुपए लेकर भागा आरोपी पुलिस ने पकड़ा, बरामदगी में दिखाए 2500

  • 40 हजार  रुपए लेकर भागा आरोपी पुलिस ने पकड़ा,  बरामदगी में दिखाए 2500
You Are HerePunjab
Friday, April 21, 2017-1:36 PM

मोगा: पुलिस की छवि खराब करने वाले नारकोटिक्स सेल के थानेदार व मुंशी को एस.एस.पी. ने बीते मंगलवार को लाइन हाजिर कर दिया था। उनके खिलाफ विभागीय जांच भी शुरू हो गई है, बावजूद इस कारवाई के पुलिस के कुछेक मुलाजिमों पर कोई खासा असर नहीं हो पाया है। इसके चलते अब पुलिस पर चोर को लूटने का आरोप लगा है। 40 हजार रुपए की चोरी करके भाग रहे युवक को देर रात प्राइवेट कंपनी के सिक्योरिटी मुलाजिम काबू करके थाने ले गए। बाद में काबू किए गए आरोपी से पुलिस द्वारा 2500 रुपए नकदी की बरामदगी दिखा दी गई। रेलवे रोड पर स्थित एक निजी अस्पताल में ठेके पर कैंटीन चलाने वाले अजीत सिंह ने बताया कि करीब तीन माह पहले उसने पंचम नाम के युवक को अपने पास नौकरी पर रखा था। 

ईमानदारी से काम करके पंचम ने कैंटीन मालिक का विश्वास जीत लिया था। काम खत्म करने के बाद पंचम अस्पताल में ही सोता था। इस दौरान बीते मंगलवार की आधी रात को पंचम अपने कमरे से उठकर कैंटीन में चला गया और कंटीन में पड़ा पैसों वाला बैग जिसमें 40 हजार रुपए से अधिक की नकदी थी, उसे पंचम उठाकर वहां से बाहर निकल आया। इस दौरान वह रस्सी से अस्पताल की पिछली दीवार से बाहर निकला और भाग गया। उक्त पूरी घटना अस्पताल में लगे सी.सी.टी.वी. में कैद हो गई। इसके बाद रोड से होकर जैसे ही वह शहर के मजिस्टिक चौक के पास पहुंचा तो वहां पर प्राइवेट कंपनी के सुरक्षा र्कमियों ने उसे काबू कर लिया और उसकी तलाशी लेकर उसे थाना सिटी वन में ले गए। इस उपरांत जब कैटीन संचालक अजीत सिंह को पता चला कि पंचम को पुलिस ने काबू कर लया है तो वह थाने में गया। पुलिस ने अजीत सिंह को कहा कि आरोपी के पास से उन्होंने 2500 रुपए बरामद किए हैं, जबकि पंचम उनके सामने ही बोल पड़ा कि प्राइवेट मुलाजिमों ने ही उसकी जेब से सारे पैसे निकाले थे, और बाद में पुलिस की मिलीभगत से 2500 रुपए ही निकले बता दिए गए।
 
थाना सिटी वन के ए.एस.आई अमरजीत सिंह ने कहा कि आरोपी मंगलवार की रात को नशे में टल्ली था। उसे सीपीओ मुलाजिमों द्वारा थाने में लाया गया। इस दौरान उसकी जेब से पुलिस ने 2500 रुपए ही बरामद किए हैं। अगर आरोपी 40 हजार रुपए चोरी करके भागा है तो हो सकता है कि नशे की हालत में उसकी जेब से कहीं पैसे गिर गए हों। बाकी मामला थाना सिटी साऊथ के क्षेत्र से संबंधित है, इसलिए उन्होंने आरोपी को थाना सिटी साऊथ की पुलिस के हवाले कर दिया है।
 
 
कैंटीन संचालक अजीत सिंह का कहना है कि पुलिस उक्त मामले में पर्दा डाल रही है। क्योंकि आरोपी पंचम ही पुलिस और उनके सामने यह बयान दे चुका है कि सीपीओ मुलाजिमों ने उसकी तीन जेबों से 40 हजार रुपए निकाले हैं। महज 2500 रुपये जो कि 10 और 20 के नोट थे उसकी जेब में डाल बाकी के पैसे खुद रख लिए। अजीत का कहना है कि पुलिस मामले में पर्दा डालने की कोशिश कर रही है, जानबूझ कर सीपीओ मुलाजिमों की करतूत को छुपाया जा रहा है। इससे साफ साबित होता है कि पुलिस भी उनके साथ ही मिली हुई है। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You