PU के 165 कालेज बी.ए. लैवल पर होंगे ऑनलाइन

  • PU के 165 कालेज बी.ए. लैवल पर होंगे ऑनलाइन
You Are HerePunjab
Saturday, May 20, 2017-3:54 PM

पटियाला (प्रतिभा): 12वीं के रिजल्ट निकलने शुरू हो गए हैं। पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड के बाद अभी अन्य बोर्ड के भी रिजल्ट निकलने बाकी हैं। अब स्टूडैंट्स करियर के लिहाज से कालेजों और नए कोर्सिज की तरफ ध्यान दे रहे हैं। ऐसे में राज्य सरकार और पंजाबी यूनिवर्सिटी भी स्टूडैंट्स की सुविधा का ख्याल रखते हुए सभी कालेजों को ऑनलाइन करने जा रही है। जिसके बाद हरेक कालेज में एडमिशन, सीटों, कोॢसज व अन्य सभी काम ऑनलाइन ही स्टूडैंट देख सकेगा। अभी तक कालेजों का सिस्टम ऑनलाइन नहीं किया गया था। वहीं इससे एक और फायदा यह भी होगा कि स्टूडैंट का किस कोर्स में ज्यादा रुझान है, उसकी फीस और अन्य कालेजों से उसकी तुलना भी आसानी से हो सकेगी। इसके लिए पंजाबी यूनिवर्सिटी की सभी तैयारियां कंपलीट हैं और अगले हफ्ते कालेजों को इसका डैमो भी दिया जाएगा। हालांकि डैमो से पहले वाइस चांसलर के साथ एक मीटिंग भी इस संबंध में रखी गई है। 

यूनिवर्सिटी के तहत कुल 275 कालेज
वैसे तो यूनिवर्सिटी  के तहत कुल 275 कालेज आते हैं। इनमें से बी.एड., लॉ और फिजीकल कालेज पहले से ही ऑनलाइन हैं। इनकी एडमिशन ऑनलाइन पोर्टल के आधार पर ही होती है। ऐसे में लगभग 165 कालेज हैं, जिन्हें ऑनलाइन किया जा रहा है। बी.ए. लैवल पर सभी कालेज ऑनलाइन हो जाएंगे। इसमें पंजाबी यूनिवर्सिटी और गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी  अमृतसर दोनों ही यूनिवर्सिटीज के कालेज ऑनलाइन होंगे। वहीं अगले चरण में अटैंडैंस, आईकार्ड, होस्टल की जानकारी व ड्यूज आदि से जुड़े मामलों को भी ऑनलाइन ही कर दिया जाएगा। 

पी.एस.ई.बी. से पिछले 5 सालों के 12वीं के स्टूडैंट्स की डिटेल्स मांगी
इस ऑनलाइन सैगमैंट के तहत पंजाबी यूनिवर्सिटी ने पिछले 5 साल के 12वीं कर चुके स्टूडैंट्स का डाटा पंजाब स्कूल एजुकेशन बोर्ड से मांगा है। ये सारा डाटा भी ऑनलाइन ही डाल दिया जाएगा। इसका मकसद यही है कि एडमिशन के दौरान स्टूडैंट का सारा ब्यौरा ऑनलाइन ही देख सकते हैं। इससे पता चल जाएगा कि स्टूडैंट का 12वीं का सर्टीफिकेट सही है और ऑनलाइन ही सर्टीफिकेट की वैरीफिकेशन हो जाएगी।

पी.यू. का ऑनलाइन सिस्टम पहले ही ठप्प चल रहा
हालांकि कालेजों को ऑनलाइन करने का सिस्टम काफी फायदेमंद रहेगा। पर पी.यू. ने इससे पहले रिजल्ट व एडमिशन से जुड़े अन्य कई पहलुओं को ऑनलाइन किया था लेकिन यह सिस्टम अक्सर ही ठप्प रहता है। खासकर एग्जामिनेशन ब्रांच का सिस्टम पूरी तरह से ऑनलाइन किया गया था। वह सिस्टम ज्यादा वर्कलोड होने की वजह से डाऊन रहता है। जिस वजह से स्टूडैंट्स को काफी परेशानी उठानी पड़ती है। यह सिस्टम अभी भी पूरी तरह से ठीक नहीं है। 

अगले हफ्ते ही मीटिंग के लिए बुलाया गया : डीन कालेजिस
डीन कालेजिस डा. कुलबीर सिंह ढिल्लों ने कहा कि सरकार कालेजों को ऑनलाइन करने का एक अच्छा काम कर रही है। इसके लिए सारी तैयारियां मुकम्मल हो चुकी हैं। अगले हफ्ते वाइस चांसलर से मीटिंग करके कालेजों को डैमो दे दिया जाएगा। वहीं ऑनलाइन सिस्टम होने पर सर्वर डाऊन होने की समस्या आती है, इसे रोकने के लिए पहले ही मैकेनिज्म ऐसा बनाएंगे कि ऐसी कोई दिक्कत हो ही नहीं।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You