कनाडा पढ़ने भेजा था इकलौता पुत्र,मौत की खबर ने झिंझोड़ दिया पूरा परिवार

  • कनाडा पढ़ने भेजा था इकलौता पुत्र,मौत की खबर ने झिंझोड़ दिया पूरा परिवार
You Are HerePunjab
Wednesday, September 13, 2017-3:30 PM

नवांशहरः कनाडा में नवांशहर के नौजवान की सड़क हादसे में मौत हो गई।  कर्ण माता-पिता का इकलौता बेटा था। 

 

जानकारी के अनुसार नवांशहर के कस्बा सड़ोया के एक परिवार पर उस समय दुखों का पहाड़ टूट पड़ा जब उनके कनाडा गए बेटे की मौत की खबर उन्हें मिली। कर्ण शर्मा  2016 में 12वी की पढ़ाई कर स्टडी वीजा पर कनाडा के मांट्रियल शहर में गया था। 

PunjabKesari
कर्ण अपने पिता हरजिंदर और माता किरण बाला का इकलौता बीटा था। कर्ण का पिता राजस्थान के सूरत में फौज में सूबेदार है। पिता के फौज में नौकरी करने के कारण कर्ण अपने चाचा सुखविंदर के साथ ज्यादातर  रहता था। कर्ण पढ़ाई के साथ- साथ पार्ट टाइम काम भी करता था और फुटबाल खेलने का शौकीन था।  कुछ समय  पहले ही उसे एक कम्पनी में ट्राला चलाने की नौकरी मिली थी। 

 

कर्ण  क्लास खत्म करने के बाद मांट्रियल के कर्निवल  जा रहा था कि सामने एक तेजाब का टैंकर रोड पर खड़ा था। कर्ण ने अपना ट्राला उसके पीछे रोका तो पीछे से एक और ट्राले ने कर्ण के ट्राले को टक्कर मार दी जिस कारण ट्राला तेजाब के ट्राले से टकरा गया और आग लग गई । इस अाग में  कर्ण पूरी तरह झुलस गया अौर मौके पर ही उसकी मौत हो गई।

PunjabKesari
बेटे की मौत की खबर सुनते ही परिवार और रिश्तेदारों को गहरा सदमा लगा। कर्ण की मां और दादी का रो रो कर बुरा हाल है। परिवार ने सरकार से मांग की है कि कर्ण की मौत के कारणों का पता लगाया जाए और उसकी लाश को भारत लाया जाए।

 

कर्ण के पिता हरजिंदर ने बताया कि उनका बेटा फुटबाल का अच्छा खिलाडी था । हम  भारत सरकार से मांग करते हैं कि उसका शव भातर लाया जाए।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!