भागीवांदर मोनू कत्ल कांडः प्रदर्शन दौरान पीड़ित परिवार ने की आत्मदाह करने की कोशिश

  • भागीवांदर मोनू कत्ल कांडः प्रदर्शन दौरान पीड़ित परिवार ने की आत्मदाह करने की कोशिश
You Are HerePunjab
Wednesday, July 26, 2017-12:45 PM

तलवंडी साबो (मुनीश): गांव भागीवांदर में क थित नशा तस्कर मोनू अरोड़ा को बेरहमी से मार देने के बाद हुई उसकी मौत को लेकर मोनू अरोड़ा के पारिवारिक सदस्यों ने तलवंडी साबो-भटिंडा हाईवे जाम कर दिया व रोष में तेल डालकर आत्मदाह करने की कोशिश को मौके पर मौजूद पुलिस ने नाकाम कर दिया जिसके चलते एक बड़ी घटना होने से बचाव हो गया।

जिक्र योग्य है कि इस मामले में पुलिस ने 13 व्यक्तियों पर कत्ल व अन्य संगीन धाराओं तहत मामला दर्ज किया था जिसमें से अब तक 3 व्यक्तियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मृतक के परिवार ने गत दिवस एक प्रैस-कॉन्फैंस दौरान पुलिस पर बाकी के आरोपियों की गिरफ्तारी न किए जाने पर समुचे परिवार द्वारा आत्महत्या करने की धमकी दी थी व आज मृतक के परिजनों ने एक बसपा नेता के नेतृत्व में तलवंडी साबो-भटिंडा हाईवे पर जाम लगा कर पुलिस, पंजाब सरकार व आम आदमी पार्टी खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इसी दौरान मामला उस समय गर्मा गया जब मोनू की माता सोमा रानी व उसकी 2 बहनों ने अपने ऊपर तेल डालकर आग लगाने की कोशिश की परन्तु मौके पर मौजूद थाना मुखी जगदीश कुमार ने महिलाओं से माचिस छीन ली व इस धक्का-मुक्की दौरान परिवार की एक लड़की वीरपाल कौर के हाथ में चोट लग गई।

मोनू अरोड़ा के पिता विजय कुमार ने बताया कि मोनू के कथित कातिल गांव में खुलेआम घूम रहे हैं व इसकी सूचना वह वकायदा पुलिस को दे चुके हैं, मृतक की भाभी ने बताया कि  जब वे कोई सूचना लेकर पुलिस के पास जाते हैं तो पुलिस उनसे छापा मारने के लिए तेल-पानी का खर्च मांगती है व डी.एस.पी. तलवंडी साबो तो कार्यालय पहुंचने पर उनसे सख्ती से पेश आता है जिससे साबित होता है कि पुलिस कथित आरोपियों से मिली हुई है। उन्होंने कहा कि अभी तक केवल 3 आरोपियों को ही गिरफ्तार किया है उनमें से भी 2 ने आत्मसमर्पण कि या है फिर डेढ़ महीने से पुलिस क्या कर रही है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!