सुरिन्द्र कौर की नृशंस हत्या का मामलाः 2 महीने बाद भी पुलिस खाली हाथ

  • सुरिन्द्र कौर की नृशंस हत्या का मामलाः 2 महीने बाद भी पुलिस खाली हाथ
You Are HerePunjab
Tuesday, July 25, 2017-2:34 PM

फगवाड़ा (जलोटा): करीब 2 माह पहले फगवाड़ा की पॉश कालोनी गुरु हरगोबिन्द नगर की कोठी नंबर-472 में बुजुर्ग महिला सुरिन्द्र कौर की नृशंस हत्या का मामला अभी भी पुलिस फाइलों में अनट्रेस ही चल रहा है। फगवाड़ा पुलिस आज तक यह पता नहीं लगा सकी है कि बेखौफ होकर इस हत्याकांड को अंजाम देने के पीछे का राज क्या रहा है और वे अज्ञात हत्यारे कौन और उनकी संख्या कितनी थी और हत्या कर वे कहां पर चले गए। पंजाब केसरी द्वारा हत्याकांड को लेकर किए गए ताजा फालोअप में शीर्ष पुलिस सूत्रों ने बड़ा खुलासा किया है कि उक्त हत्याकांड किसी भी प्रकार से अज्ञात लुटेरों द्वारा लूट को अंजाम देने के मनोरथ के दौरान अंजाम नहीं दिया गया है।

सूत्रों ने दावा किया है कि हत्याकांड को अंजाम देने से पहले अज्ञात हत्यारों ने इलाके की बारीकी से रेकी की थी। इसके अतिरिक्त हत्या करने के पीछे बड़ा मकसद रहा है। पुलिस सूत्रों ने दावा किया है कि हत्याकांड को लेकर इन सभी अहम पहलुओं को गंभीरता से जांच के दायरे में लाया जा रहा है और यदि सब कुछ सटीक दिशा में चला तो आरोपी हत्यारे जल्द जेल की सलाखों के पीछे होंगे। 

वह क्या राज रहा है जिसे ढूंढने में लगी है पुलिस
लेकिन यह दावे कितने सक्षम हैं इसका अंदाजा महज इस बात से लगाया जा सकता है कि फगवाड़ा पुलिस की टीमें बार-बार मृतका की कोठी को खोल उसे बारीकी से खंगालती रही हैं। सवाल यह बना हुआ है कि पुलिस ने मृतका के घर की ही क्यों कई बार जांच की है और वह क्या राज रहा है जिसे पुलिस टीम ढूंढने में लगी हुई है। इसी दौरान पुलिस हार्डकोर पेशेवर क्रिमिनल्स संबंधी भी पुलिस फाइलों को बारीकी से खंगालने में जुटी रही है। सूत्र बताते हैं कि पुलिस द्वारा इस तथ्य को भी बारीकी से खंगाला गया है कि तब मृतका की रसोई में मिले उस जूस के गिलास के पीछे की सच्चाई क्या रही है।

कहीं उसमें कोई नशीली वस्तु तो नहीं डाली गई थी जिससे मृतका को बेसुध करने के बाद उसकी हत्या की गई हो लेकिन हाल फिलहाल ऑन-रिकार्ड पुलिस आरोपी हत्यारों को गिरफ्तार करना तो दूर इनकी असली पहचान तक जुटाने में फेल साबित हुई है। वहीं फगवाड़ा में हुए उक्त ब्लाइंड मर्डर पश्चात लोगों के दिलों दिमाग पर खासी दहशत और खौफ छाया हुआ है और सबकी निगाहें पुलिस पर टिकी हुई हैं कि कब पुलिस तंत्र उक्त मर्डर केस को हल कर आरोपी हत्यारों को गिरफ्तार करते हुए इसके पीछे रहे कारण का खुलासा करता है।  

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!