मार्कीट फीस व ग्रामीण फंड का करेंगे विरोध: चीमा

  • मार्कीट फीस व ग्रामीण फंड का करेंगे विरोध: चीमा
You Are HerePunjab
Wednesday, September 20, 2017-1:17 AM

चंडीगढ़(भुल्लर): कृषि विभाग की ओर से मार्कीट फीस व ग्रामीण विकास फंड 2 से 3 प्रतिशत करने के फैसले का पंजाब की मंडियों में जोरदार तरीके से विरोध किया जाएगा। 

यह घोषणा मंगलवार को यहां आढ़ती एसोसिएशन पंजाब के अध्यक्ष रविंद्र सिंह चीमा ने राज्य स्तरीय बैठक के बाद की। उन्होंने कहा कि जी.एस.टी. लगने से कपास, दालों व तेल बीजों के रेट बढ़ गए हैं। अगर इन पर मार्कीट फीस व ग्रामीण विकास फंड भी बढ़ाया गया तो पंजाब का व्यापारी अन्य प्रदेशों के व्यापारियों के मुकाबले में खरीद व बिक्री नहीं कर सकेगा क्योंकि यह फंड पंजाब में पहले ही दूसरे राज्यों से ज्यादा है। 

पिछली सरकार के समय भी उन्होंने मंडी बोर्ड का उपचेयरमैन होते हुए मार्कीट फीस बढ़ाने का विरोध किया था। उन्होंने उस समय मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल से कपास व मक्की आदि की फसलों पर मार्कीट फीस व ग्रामीण विकास फंड 2 से कम करवाकर 1 प्रतिशत करवाया था।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!