मनप्रीत बताएं पंजाब को वित्तीय तौर पर मजबूर बनाने के लिए 6 माह में क्या किया: चुघ

  • मनप्रीत बताएं पंजाब को वित्तीय तौर पर मजबूर बनाने के लिए 6 माह में क्या किया: चुघ
You Are HerePunjab
Sunday, September 10, 2017-11:24 AM

चंडीगढ़: भाजपा के राष्ट्रीय मंत्री तरुण चुघ ने पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत बादल को पढ़ा-लिखा नीति विहीन, नकारात्मक सोच वाला नेता बताते हुए कहा है कि वर्ष 2007 से 2011 तक भाजपा-शिअद सरकार में वित्त मंत्री रहे मनप्रीत को नकारात्मकता और किसान विरोधी नीतियों के कारण पार्टी ने बाहर का रास्ता दिखाया था।

उन्होंने मनप्रीत की ओर से जी.एस.टी. को लागू करने की प्रक्रिया की आलोचना को विवेकहीन करार देते हुए कहा कि जी.एस.टी. काऊंसिल की बैठक में हर फैसला सर्वसम्मति से हुआ है जिसमें पंजाब की तरफ से मनप्रीत 2007 से 2011 और अब भी शामिल होते रहे हैं। उन्होंने कहा कि 6 माह से वित्त मंत्रालय संभाल रहे मनप्रीत की वित्तीय कुप्रबंधन, घटिया प्रदर्शन और अकुशलता के कारण राज्य गंभीर आर्थिक संकट में फंसकर कर्मचारियों को वेतन देने में भी असमर्थ है। 90 हजार करोड़ रुपए का किसानी ऋण माफी का वायदा कर सत्ता में पहुंची कांग्रेस के वित्त मंत्री मनप्रीत ने मात्र 1500 करोड़ के बजट का प्रावधान रखा है जो ऊंट के मुंह में जीरा के समान है। 

उन्होंने कहा कि मनप्रीत बादल बताएं कि उन्होंने पंजाब को वित्तीय तौर पर मजबूत बनाने के लिए 6 माह में क्या किया है? चुघ ने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र 12 दिन के निजी विदेशी दौरे पर जाने की अपेक्षा राज्य के वित्तीय कुप्रबंधन को पटरी पर लाने की तरफ ध्यान दें।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !