पंजाबियों को रोजगार के लिए विदेश जानें की जरुरत नहीं, राज्य में मिलेंगे अवसर

  • पंजाबियों को रोजगार के लिए विदेश जानें की जरुरत नहीं, राज्य में मिलेंगे अवसर
You Are HerePunjab
Wednesday, July 26, 2017-2:14 PM

मोहाली:  रोजी -रोटी कमाने के लिए पंजाब के युवाअों में विदेश जाने की होड़ लगी हुई  है, जिस कारण विदेश गए बेटों  को मिलने के लिए माएं बरसों तरसतीं रहती हैं परन्तु अब इन युवाअों को सूबा छोड़ कर बाहर जाने की जरूरत ही नहीं पड़ेगी। पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने ऐलान किया है कि आने वाले 5 सालों दौरान पंजाबी युवाअों के लिए 25 लाख रोजगार के मौके पैदा किए जाएंगे जिससे वह अपने परिवार की आंखें से दूर नहीं पास रहकर ही कामयाबी हासिल कर पाएंगे। 


उन्होंने कहा कि सरकार ऐसे मौके पैदा करेगी जिससे युवाअों को विदेश जाने की जरूरत ही नहीं पड़ेगी।  बादल ने मंगलवार को इंडियन स्कूल आफ बिजनैस (आई. एस. बी.) में 'अपनी गाड़ी, अपना रोजगार' योजना के अंतर्गत उबर मोटो सेवा लांच की। 


इस मौके उन्होंने 100 मोटरसाईकिलों को झंडी देकर रवाना किया। वित्त मंत्री ने कहा कि उपरोक्त स्कीम के अंतर्गत हर साल एक लाख नौजवानों को रोजगार दिया जाएगा। बादल ने कहा कि मौजूदा सरकार ने अपने चुनावी मैनिफैस्टो  में युवाअों के लिए रोजगार के मौके पैदा करने के लिए अपने वादे अनुसार यह योजना शुरू की है। 


लोगों को इस सर्विस से बहुत फायदा होगा क्योंकि जहां चार पहिया वाहन नहीं पहुंच सकते, वहां दो पहिया वाहन आसानी के साथ पहुंच सकते हैं। उन्होंने कहा कि रोजगार के लिए पंजाबियों को विदेशों की तरफ भागना पड़ता है, हमें अपने व्यवस्था को बदलना पड़ेगा। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!