शराब के ठेकेदार व कारिंदों ने आबकारी पुलिस के साथ की नौजवान की पिटाई, मौत

  • शराब के ठेकेदार व कारिंदों ने आबकारी पुलिस के साथ की नौजवान की पिटाई, मौत
You Are HerePunjab
Wednesday, November 29, 2017-8:26 AM

चाऊंके(शाम): गांव बल्लो में शराब के ठेकेदारों और कारिदों की ओर से आबकारी विभाग के पुलिस कर्मचारियों के साथ मिलकर नाजायज शराब को लेकर घर के मालिक के साथ की गई मारपीट दौरान नौजवान की मौत होने का समाचार मिला है। जानकारी के अनुसार गांव वासियों से पता लगा है कि आज शराब के ठेकेदार और उसके कारिदों ने लक्खा सिंह पुत्र पूर्ण सिंह के घर आते ही तलाशी शुरू कर दी, परन्तु तलाशी दौरान घर से कुछ भी न मिलने के कारण उसे जबरदस्ती अपनी गाड़ी में बिठाने लगे तो उसने साथ जाने से इंकार किया। इस दौरान उन्होंने उससे मारपीट करनी शुरू कर दी, जिससे नौजवान की मौके पर ही मौत हो गई।


घटना के बाद मौके से फरार हुई आबकारी विभाग की टीम
जब इसका पता गांव वासियों को चला तो वे मृतक के घर इक_ा होने शुरू हो गए। इस दौरान गांव में तनावपूर्ण स्थिति बन गई और लोगों के गुस्से को देखते हुए आबकारी विभाग की टीम भाग गई। पुलिस चाऊंके चौकी के इंचार्ज गुरदर्शन सिंह के अनुसार मृतक लक्खा सिंह की बहन राजदीप कौर बेटी पूर्ण सिंह ने बयान दर्ज करवाए हैं कि शराब के ठेकेदार और उसके कारिंदे लक्खा सिंह के घर जबरन दाखिल होकर उससे मारपीट करने लगे जिस कारण उसकी मौत हो गई।


क्या कहना है शराब ठेकेदार का
शराब के ठेकेदार दिनेश कुमार का कहना है कि वह तो फरीदकोट गया हुआ है, जबकि घटना में शराब के ठेकेदारों का कोई रोल नहीं है। भाकियू के नेता मि_ू सिंह बल्लो, गुरजंट सिंह, अमरजीत सिंह, नछत्तर सिंह, बहादर सिंह पंच, मलकीत सिंह और गुरजीत सिंह ने बताया कि पहले भी बेवजह शराब के ठेकेदार गांव के लोगों को नाजायज शराब बेचने की आड़ में परेशान करते रहते हैं जबकि गांव में नाजायज शराब बेचने जैसा कोई मुद्दा नहीं है। किसान यूनियन और पारिवारिक 
सदस्यों का कहना है अगर पुलिस ने शराब के ठेकेदारों और कारिंदों के खिलाफ कोई कार्रवाई न की तो संघर्ष शुरू किया जाएगा।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!