Subscribe Now!

किताबों के लिए तरसे छात्र

  • किताबों के लिए तरसे छात्र
You Are HerePunjab
Monday, September 11, 2017-4:56 PM

फरीदकोटः पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड नए शैक्षणिक सत्र की अभी तक छात्रों को पाठ्य पुस्तकें प्रदान करने में असफल रहा है। इसके चलते विद्यार्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ हो रहा है। कागज की कमी के कारण 80 फीसदी किताबें छापने में कमी आई है। इस कारण छठी कक्षा के छात्रों को गणित और हिंदी की तथा सातवीं कक्षा के छात्रों को शारीरिक शिक्षा की किताबें नहीं मिल पाई है। 

 स्कूल शिक्षा विभाग के सचिव कृष्ण कुमार ने कहा कि पुस्तकों के लिए कागज खरीदने में अधिक देरी हो गई थी। इस कारण इस परेशानी का सामने करना पड़ रहा है। पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड ने निजी कंपनियों से कागज खरीदने की अर्जियां दायर की है। किताबों की कमी के चलते विभाग ने शिक्षकों को पुरानी किताबें इकठ्ठा कर छात्रों को देने का आग्रह किया था।

इसके अलावा, विभाग ने (पी.एस.ई.बी.) की वैबसाइट पर पहली कक्षा से बारहवीं कक्षा तक की सभी किताबों का प्रारूप प्रदान भी किया है। शिक्षक ने दावा किया कि न केवल किताबों की छपाई में देरी हुई है बल्कि किताबों को अपलोड करने में भी देरी हुई है। यहां तक की वैबसाइट पर कई किताबें तो एक हफ्ते पहले अपलोड की गई हैं।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन