लैबोरेटरी बनी मरीजों के लिए दुविधा का कारण

  • लैबोरेटरी बनी मरीजों के लिए दुविधा का कारण
You Are HerePunjab
Thursday, December 15, 2016-2:41 PM

अबोहर(भारद्वाज): एक ओर स्वास्थ्य विभाग द्वारा लोगों को बेहतर व नि:शुल्क स्वास्थ्य सेवाएं देने के लिए फार्मेसी लैबोरेटरियों का निर्माण किया गया है  परंतु कुछ लैबोरेटरी का ढांचा सही न होने के कारण मरीजों के लिए यह दुविधा का कारण बन रही हैं। ऐसा ही मामला सिविल अस्पताल में देखने को मिला जहां पर बनी फार्मेसी लैब में सिर्फ एक बुजुर्ग व्यक्ति खड़ा मिला जबकि अन्य लोगों को बाहर खुले में खड़े देखा गया। लैब में इतनी भी जगह नहीं है कि एक साथ 5 से 7 लोग खड़े हो सकें।   

 

लैब के बाहर खड़े रहने का उचित प्रबंध नहीं
लैब पर दवाई लेने आए एक व्यक्ति सुच्चा सिंह ने बताया कि वह इस लैब में सांस की दवाई लेने के लिए आया था लेकिन फार्मेसी केन्द्र के बाहर लंबी लाइन व उसके वहां पर खड़े रहने की जगह न होने के कारण वह वहीं पर बैठ गया और करीब 1 घंटे तक अपनी बारी का इंतजार करता रहा। बुजुर्ग मरीज ने बताया कि फार्मेसी लैब के थड़े पर बैठते हुए भी वह हर समय इस बात को लेकर डरता रहा कि कहीं भीड़ के दौरान कोई उसको धक्का न दे दे। वहीं यहां पर दवाई लेने के लिए खड़े दर्जनों मरीजों का कहना था कि लैब के बाहर खड़े रहने का भी उचित प्रबंध नहीं है, बैठना तो दूर की बात है।  

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You