कुत्तों के नाम पर ही राजनीति कर रहे हैं जालन्धर के ‘डॉग लवर’ मेयर

  • कुत्तों के नाम पर ही राजनीति कर रहे हैं जालन्धर के ‘डॉग लवर’ मेयर
You Are HerePunjab
Tuesday, July 18, 2017-3:16 AM

जालंधर(खुराना): शहर के प्रथम नागरिक यानी मेयर सुनील ज्योति वैसे तो डॉग लवर यानी कुत्ता प्रेमी हैं और उन्होंने वर्षों से अपने घर में कुत्ते भी पाल रखे हैं परंतु इसके बावजूद वह कुत्तों के नाम पर ही राजनीति कर रहे हैं जो दुखद है। उक्त शब्द किसी और ने नहीं बल्कि मेयर सुनील ज्योति की सहयोगी डिप्टी मेयर अरविंद्र कौर ओबराय तथा उनके पति पूर्व पार्षद कुलदीप सिंह ओबराय ने कहे। 

ओबराय दम्पति ने आज नगर निगम के कमिश्नर डा. बसंत गर्ग को एक पत्र सौंपकर आरोप लगाया कि नए बने डॉग कम्पाऊंड में कुत्तों की नसबंदी संबंधी प्रोजैक्ट हेतु उनकी सोसायटी पूरी तैयारी कर चुकी है और लाखों रुपए खर्च किए जा चुके हैं परंतु मेयर इस कार्य में अड़चनें डाल रहे हैं। पत्र में ओबराय दम्पति ने कहा कि आवारा कुत्तों की समस्या को देखते हुए उन्होंने स्ट्रे डॉग्ज एंड ह्यूमैन वैल्फेयर सोसायटी का गठन किया था और नंगल शामां में निगम की जगह पर डॉग कम्पाऊंड अस्पताल भी बना दिया गया है। नगर निगम ने 1 फरवरी, 2016 को यह जगह 30 साल के लिए इस सोसायटी को लीज पर दी थी और एग्रीमैंट भी किया गया था।

बिल्डिंग, सीवरेज का काम और बिजली का मीटर लगाने जैसे कार्यों में देरी के चलते कार्य शुरू नहीं हो पाया। सोसायटी ने प्रोजैक्ट हेतु सारा जरूरी सामान जिसमें दवाइयां, स्टेशनरी, कम्प्यूटर, वर्दियां, अल्मारियां, प्रचार सामग्री, नई गाड़ी, लोहे के शिकंजे इत्यादि खरीद लिए हैं और नंगल शामां अस्पताल पहुंचा दिए गए हैं। ओबराय ने बताया कि पहली लीज फीस 21-6-2016 को जमा करवा दी गई थी परंतु अब दूसरी किस्त जमा करने में आनाकानी की जा रही है। सोसायटी चाहती है कि मेयर इस कार्य में सहयोग करें परंतु वह गैर-कानूनी तरीके से हमें परेशान कर रहे हैं इसलिए कमिश्नर हस्तक्षेप करें और लीज फीस जमा करवाएं ताकि सोसायटी कुत्तों की नसबंदी का प्रोजैक्ट शुरू कर सके। 

ओबराय के आरोप निराधार: मेयर
दूसरी ओर मेयर सुनील ज्योति ने कहा कि पार्षद हाऊस ने ओबराय द्वारा बनाई सोसायटी को यह प्रोजैक्ट अलाट किया था परन्तु एक साल बीत जाने के बाद भी सोसायटी कुछ नहीं कर पाई जिस कारण पार्षद हाऊस में ही उनके सोसायटी को दिए प्रोजैक्ट को रद्द कर दिया गया है। ओबराय निराधार आरोप लगा रहे हैं और अपनी नाकामी छिपा रहे हैं। निगम आवारा कुत्तों की समस्या के प्रति गंभीर है और जल्द ही नंगल शामां डॉग कम्पाऊंड में सरकारी डाक्टरों की सहायता से नसबंदी प्रोजैक्ट शुरू होने जा रहा है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !