पंजाब के कुछ हिस्सों में बारिश के बाद जालंधर-लुधियाना में  छाया धुंअा

  • पंजाब के कुछ हिस्सों में बारिश के बाद जालंधर-लुधियाना में  छाया धुंअा
You Are HereLatest News
Tuesday, November 14, 2017-11:10 AM

जालंधरः पूरे उत्तर भारत में धुएं का कहर लगातार जारी है। बारिश होने की अा रही खबरों ने लोगों के लिए जहां राहत का संदेश दिया वहीं मालवा में हुई हल्की बारिश ने जालंधर-लुधियाना को धुएं से ढक दिया।

उल्लेखनीय है कि पंजाब-हरियाणा के खेतों में जलाई गई पराली इसका सबसे बड़ा कारण है। शहरों और प्रशासन के लिए जरूरत इस बात की है कि वे उत्सर्जन में कमी लाने हेतु साहसिक निर्णय लें।  


प्रदूषित करने वाले ईंधन पर पाबंदी

प्रशासन को एक अधिसूचना जारी कर यह स्पष्ट करना चाहिए कि कौन-से ईंधन प्रदूषित करने वाले हैं। इस संबंध में कोई अस्पष्टता नहीं होनी चाहिए। इंडस्ट्रियल इस्टेटों और गैरकानूनी उद्योगों के उत्सर्जनों की कड़ाई से जांच होती रहनी चाहिए. मोटर गाड़ियों, ऊर्जा संयंत्रों तथा उद्योगों को गैस से चलाने पर तब्दील करने का काम भी बड़े पैमाने पर किया जाना चाहिए। विद्युत-चालित गाड़ियों के साथ ही बिजली मुहैया करने की भरोसेमंद व्यवस्था को प्राथमिकता दी जानी चाहिए, ताकि जेनेरेटरों का इस्तेमाल बंद हो सके।


फसल अवशिष्ट को जलाने पर रोक

बार-बार फसल अवशिष्टों को जलाने पर रोक लगाई जाए।  कचरा जलाने और धूल फैलाने पर प्रतिबंध होना चाहिए। प्रदूषण फैलाने पर ज्यादा निगरानी, जुर्माने, सिलसिलेवार समाधान तथा विनियमों को कड़ाई से लागू करने की जरूरत है।  

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!