राजोआणा न बचाते तो मरवा देता राम रहीम, 10 लाख में दी थी सुपारी

  • राजोआणा न बचाते तो मरवा देता राम रहीम, 10 लाख में दी थी सुपारी
You Are HerePunjab
Saturday, September 23, 2017-5:08 AM

चंडीगढ़(बंसल): हनीप्रीत के पूर्व पति विश्वास गुप्ता ने खुलासा किया है कि वर्ष 2011 के दौरान जब वह धोखाधड़ी के एक मामले में पटियाला जेल में बंद था तो डेरा प्रमुख राम रहीम ने 10 लाख रुपए की सुपारी देकर उसे मरवाने की कोशिश की थी। तब पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह की हत्या के दोष में बंद बलवंत सिंह राजोआणा ने ही उसे बचाया इसलिए वह उसके लिए भगवान के समान है। उन्होंने दावा किया कि जेल में कई बार मारने का प्रयास किया गया लेकिन हर बार राजोआणा ने बचाव किया। 

डेरा प्रमुख राम रहीम को जेल होने के बाद पहली बार मीडिया के सामने आए विश्वास गुप्ता ने पत्रकारों के समक्ष कई खुलासे किए। उन्होंने यह तक कहा कि मीडिया के सामने आने के बाद हो सकता है कि वह अब जिंदा न बच पाएं। विश्वास बात करते-करते काफी घबराए हुए थे। इस दौरान कई बार वह रो पड़े। उन्हें चक्कर आने लगे जिसके चलते वह पत्रकारवार्ता बीच में छोड़कर चले गए। विश्वास और उनके पिता ने दावा किया कि राम रहीम ने धोखे से उनकी करोड़ों रुपए की संपत्ति हड़प ली थी जिसे मुक्त करवाने के लिए वे अब कानून का सहारा लेंगे। 

साध्वियों से यौन संबंध के बारे में पूछने पर विश्वास ने कहा कि वर्ष 2009 तक ये सब होता रहा लेकिन जब से हनीप्रीत डेरा प्रमुख की जिंदगी में आई उसके बाद ऐसा नहीं हुआ होगा। उन्होंने कहा कि हनीप्रीत डेरा प्रमुख के साथ साढ़े 23 घंटे रहती थी। ऐसे में वह डेरा प्रमुख के साथ किसी और को कैसे बर्दाश्त कर सकती थी? वहीं पंचकूला के पुलिस आयुक्त ने दावा किया है कि हनीप्रीत देश से भागी नहीं है बल्कि वह भारत में ही कहीं छुपी हुई है, जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा। 


 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!