ज्ञानी गुरमुख सिंह को डेरा सिरसा का कथित तौर पर मिला धमकी भरा पत्र

  • ज्ञानी गुरमुख सिंह को डेरा सिरसा का कथित तौर पर मिला धमकी भरा पत्र
You Are HerePunjab
Monday, June 19, 2017-11:35 PM

अमृतसर(ममता,मनदीप): डेरा सिरसा के प्रमुख को श्री अकाल तख्त साहिब से आम माफी दिए जाने से खफा तख्त श्री दमदमा साहिब के पूर्व कार्यकारी और श्री अकाल तख्त साहिब के पूर्व हैड ग्रंथी ज्ञानी गुरमुख सिंह को डेरा प्रेमियों की ओर से कथित तौर पर धमकी भरा मिला है। यह पत्र ज्ञानी गुरमुख सिंह के पैतृक गांव आरफकर में सोमवार को प्रात:काल मिला। 

ज्ञानी गुरमुख सिंह ने बताया कि यह पत्र उनके पैतृक घर के बाहर एक थैले में पड़ा था। उनके ताया के सुपुत्र गुरविन्द्र सिंह ने जब घर का दरवाजा खोला तो यह थैला मिला जिस में दो पृष्ठों का पत्र था। ज्ञानी गुरमुख सिंह आजकल छुट्टी लेकर अमृतसर स्थित रिहायश पर आए हुए हैं। अपनी रिहायश में पत्रकारों से ज्ञानी गुरमुख सिंह ने बताया कि प्रात:काल करीब 8 बजे उनके परिवार के सदस्यों ने उनको फोन पर इस पत्र बारे सूचित किया। पत्र साधारण कापी के पृष्ठों पर लिखा है और इसके नीचे किसी भी व्यक्ति के हस्ताक्षर नहीं हैं। 

उन्होंने इसकी जानकारी पंजाब पुलिस के डायरैक्टर जनरल सुरेश अरोड़ा को दी। अमृतसर के पुलिस कमिश्नर को भी उक्त पत्र बारे बताकर उन्होंने अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा सुनिश्चित बनाने के लिए कहा। कथित तौर पर भेजे धमकी भरे पत्र में ज्ञानी गुरमुख सिंह का नाम न लिए बगैर पत्र लिखने वाले ने बेहद घटिया शब्दावली इस्तेमाल की है। ज्ञानी गुरमुख सिंह ने डेरा प्रेमियों को कहा कि वे गीदड़ भभकियों से नहीं डरते और गुरबाणी का प्रचार करते रहेंगे। वह हमेशा ही डेरावाद के फैलाए भ्रम जाल के प्रति संगत को सचेत करते रहे हैं, इसलिए वह डेरावादियों की आंखों में एक कांटा हैं।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You