फिर बढ़ा सरदारों का मान, दस्तारधारी सिख बने कैनेडियन सैनेट की शान

You Are HerePunjab
Monday, October 31, 2016-2:58 PM

टोरांटोः कनाडा में रहते सिख समुदाय  के नाम पर एक और बड़ी उपलब्धि जुड़ गई है। कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन  ट्रूडो ने स्कोशिया बैंक के पूर्व उप चेयरमैन और मुख्य अधिकारी सरबजीत सिंह मरवाहा को पहले सिख कैनेडियन सैनेटर नियुक्त किया है। 

 

सरबजीत सिंह कनाडा की सैनेट में शामिल होने वाले पहले दस्तारधारी व्यक्ति होंगे। सरबजीत सिंह उन 6 लोगों में शामिल हैं, जिन्हें प्रधानमंत्री ट्रूडो ने स्वतंत्र सैनेटरों के रूप में ओन्टारियो से चुना है। उनके अलावा चुने गए सैनेटर गवेन बोनीफेस (ओन्टारियो प्रोविंशियल पुलिस के पूर्व कमिश्नर), टोनी डीन (पूर्व प्रोफ़ैसर और ओन्टारियो सरकार में सीनियर ब्यूरोक्रेट), लूसी मोनीकियन, किम्बरले पेटे और हावर्ड वैटस्टन हैं। 

 

मरवाहा स्कोशिया बैंक में कई सीनियर पद पर सेवा निभा चुके हैं। वह 1998 में चीफ़ फाइनैंशियल अफसर, 2002 में सीनियर एग्जिक्युटिव वाइस प्रैज़ीडैंट और चीफ फाइनेंशियल अफ़सर और तीन सालों बाद वाइस चेयरमैन और चीफ़ ऐडमिनस्ट्रेटिव अफसर के तौर पर अपनी, सेवा निभा चुके हैं। अक्तूबर 2008 में उन्हें सकोशिया बैंक में वाइस चेयरमैन और चीफ आप्रेटिंग अफ़सर के तौर पर नियुक्त किया गया। इसके अलावा मरवाहा ग़ैर लाभकारी संस्थाओं के लिए भी काम करते रहे हैं। वह कनाडा में सिख फाउंडेशन के मैंबर भी हैं।  
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!