कर्नाटक में कृपाण धारण करने पर पाबंदी लगाने के फैसले से सिखों में रोष

  • कर्नाटक में कृपाण धारण करने पर पाबंदी लगाने के फैसले से सिखों में रोष
You Are HerePunjab
Tuesday, September 12, 2017-11:30 PM

पटियाला(परमीत): दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के महासचिव मनजिंद्र सिंह सिरसा ने बताया कि कर्नाटक सरकार की तरफ से कृपाण धारण करने पर लगाई पाबंदी के खिलाफ सिखों में रोष है। 

मनजिंद्र सिंह सिरसा ने गृह मंत्री से इस मामले में दखल देने की मांग करते हुए एक पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने कहा है कि कर्नाटक सरकार द्वारा हथियारों बारे 2016 के नियमों के अंतर्गत बिना लाइसैंस के हथियार रखने, खरीदने और पहनने पर बेंगलूर शहर में पाबंदी के हुक्म लागू किए गए हैं। पाबंदी के इन हुक्मों में कृपाण भी शामिल की गई है जोकि सिखों द्वारा धार्मिक चिन्ह के तौर पर धारण की जाती है और यह अमृतधारी सिखों के लिए जरूरी है। 

सिरसा ने गृह मंत्री के यह भी ध्यान में लाया कि पहले घटी एक घटना में बेंगलूर हवाई अड्डे पर सिख मुसाफिरों को जहाज में से तब जबरन उतार दिया गया था जब उन्होंने कृपाण उतारने से मना कर दिया था।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!