सौर ऊर्जा उद्योग के समक्ष ऊर्जा संग्रहण सबसे बड़ी चुनौती: बदनौर

  • सौर ऊर्जा उद्योग के समक्ष ऊर्जा संग्रहण सबसे बड़ी चुनौती: बदनौर
You Are HerePunjab
Tuesday, September 26, 2017-11:59 PM

चंडीगढ़(भुल्लर): स्वच्छ ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए भारतीय उद्योग परिसंघ (सी.आई.आई.) ने सौर छत और नैट मीटरिंग विषय पर सम्मेलन का आयोजन किया। इसमें पंजाब व हरियाणा सरकार के अलावा चंडीगढ़ से संबंधित सौर ऊर्जा विभाग के उज्जाधिकारी शामिल हुए। यहां पंजाब के राज्यपाल व चंडीगढ़ के प्रशासक वी.पी. सिंह बदनौर ने कहा कि सी.आई.आई. विशेष रूप से पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में सौर और अक्षय ऊर्जा क्षेत्रों में बहुत सक्रिय है। 

स्थायी संसदीय समिति के उनके कार्यकाल के दौरान प्रस्तावित किया गया था कि अक्षय ऊर्जा से कम से कम 5 प्रतिशत बिजली उत्पादन किया जाए। उन्हें खुशी है कि आज 16 से 17 प्रतिशत तक ऊर्जा का उत्पादन सौर माध्यम से किया जा रहा है जो लगातार बढ़ रहा है। आज सौर ऊर्जा उद्योग के सामने ऊर्जा संग्रहण सबसे बड़ी चुनौती है। चंडीगढ़ के गृह सचिव अनुराग अग्रवाल ने कहा कि चंडीगढ़ एकमात्र ऐसा शहर है जहां प्रशासन ने सभी सरकारी भवनों को सौर छतों के साथ कवर किया है और फोकस अब घरों पर है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!