बांध प्रशासन ने अवैध गिरदावरी मामले के आरोपी 2 कर्मचारियों को किया सस्पैंड

  • बांध प्रशासन ने अवैध गिरदावरी मामले के आरोपी 2 कर्मचारियों को किया सस्पैंड
You Are HerePunjab
Wednesday, November 29, 2017-12:42 PM

जुगियाल/पठानकोट(शर्मा, आदित्य): शाहपुरकंडी के रावी सदन विश्राम गृह के साथ लगती 7 कनाल भूमि पर बांध परियोजना के 3 कर्मचारियों द्वारा किसी बाहरी आदमी से मिलकर तथा राजस्व विभाग की मिलीभगत से उक्त सरकारी भूमि की गलत गिरदावरी करवाने के मामले को लेकर बांध प्रशासन ने 3 बांध कर्मचारियों को संबंधित मंडल को सस्पैंड करने के आदेश जारी किए हैं।

बांध प्रशासन के निगरान अभियंता आर.एल. मित्तल ने बताया कि बांध प्रशासन के इंस्पैक्शन कार्यकारी अभियंता व उनकी टीम ने अपनी रिपोर्ट में उक्त सरकारी भूमि पर अवैध गिरदावरी करवाने तथा ऐतिहासिक धरोहर से छेड़छाड़ करने की साजिश को लेकर पूरी जांच की, जांच के बाद अपनी रिपोर्ट बांध परियोजना के चीफ इंजीनियर जे.एस. नागी को पेश की थी। 

बांध प्रशासन ने अपने कर्मचारियों पर कार्रवाई करने से पहले तीनों कर्मचारियों को कार्यालय में बुलाकर उनका पक्ष सुना। वहीं पर जांच कमेटी ने उनका सही पक्ष न मिलने पर चीफ इंजीनियर कार्यालय को उक्त तीनों कर्मचारियों के विरुद्ध उचित कार्रवाई करने की सिफारिश की है।

एस.ई आर.एल. मित्तल ने बताया कि जांच कमेटी की रिपोर्ट के अनुसार चीफ इंजीनियर कार्यालय ने संबंधित मंडल अधिकारियों को उक्त तीनों कर्मचारियों को सस्पैंड करने के  आदेश दिए हैं। टाऊनशिप मंडल के कार्यकारी अभियंता एम.एस. गिल ने बताया कि चीफ इंजीनियर कार्यालय के आदेश अनुसार उनके मंडल के अधीन आते 2 कर्मचारियों को सस्पैंड कर दिया गया है तथा तीसरा कर्मचारी दूसरे मंडल के अधीन आता है, जिस पर भी कार्रवाई हो रही है।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!