• जेल से चुनाव लड़ने को लिए शराब कारोबारी डोडा ने दी अर्जी
    जेल से चुनाव लड़ने को लिए शराब कारोबारी डोडा ने दी अर्जी
  • बठिंडा/फाजिल्काः जेल से अमृतसर जेल शिफ्ट किया गया भीम कत्लकांड का आरोपी शराब कारोबारी शिवलाल डोडा अबोहर से चुनाव लड़ना चाहता है। उसने फाजिल्का कोर्ट में बुधवार को ही अर्जी देकर 13 जनवरी को नॉमीनेशन फाइल करने के लिए जेल से बाहर आने की इजाजत मांगी है। अर्जी में उसने इसी कत्लकांड के दूसरे आरोपी भतीजे अमित डोडा को अपना कवरिंग कैंडीडेट की बात कही है। इसलिए उसे भी जेल से निकालने की मांग की है।

    साथ ही कहा है कि नॉमीनेशन फाइल करने के बाद वह प्रचार के लिए जाना चाहता है। इसके लिए सुरक्षा भी मुहैया कराई जाए। डोडा की अर्जी पर शुक्रवार को सुनवाई हुई। सरकारी वकील ने कोर्ट में जवाब दाखिल कर कहा कि कवरिंग कैंडीडेट के तौर पर अमित डोडा के बजाए किसी और को लिया जा सकता है। वोटरों से मिलने देने का कानून में कोई प्रावधान कानून नहीं है। अब कोर्ट को इस अर्जी पर फैसला करना है।


    गौरतलब है कि 4 जनवरी को सुबह 12 बजे चुनाव आयोग ने आचार संहिता की घोषणा की तो ठीक 2 घंटे डोडा ने अबोहर विधनसभा से चुनाव लड़ने की इच्छा जताते हुए फाजिल्का कोर्ट में अर्जी लगा दी। उसी शाम फाजिल्का जेल में ही डोडा ने अबोहर के शिअद नेताओं की बैठक कॉल की, जिसमें शिअद के अबोहर ब्लॉक के प्रधान अशोक अहूजा समेत 24 नेता पहुंचे। इसकी सूचना चुनाव आयोग को देने पर 6.15 बजे डीसी ने जेल में रेड की तो ये सभी लोग धरे गए। पिछले चुनाव में भी डोडा निर्दलीय चुनाव लड़ा था। 

     
    इसी मामले में अबोहर से कांग्रेस विधायक सुनील जाखड़ शुक्रवार को चीफ इलैक्टोरल ऑफिसर वी.के. सिंह से मिले। फाजिल्का का जेल में डोडा की शिअद नेताओं से मीटिंग की जांच एन.आई.ए. से कराने की मांग की। उन्होंने कहा- कोड ऑफ कंडक्ट लगने के बाद भी प्रशासन डोडा के दबाव में काम कर रहा है।

     


Political Memories