जब डॉक्टर को बेरहमी से पीट फाड़ें दिए कान के पर्दे

  • जब डॉक्टर को बेरहमी से पीट फाड़ें दिए कान के पर्दे
You Are HerePunjab
Friday, April 21, 2017-3:35 PM

लुधियाना (सहगल): गुरु तेग बहादुर अस्पताल के ऑर्थोपैडिक विशेषज्ञ डा. जगदीप मदान की एक युवक द्वारा पिटाई किए जाने पर न सिर्फ डा. मदान जख्मी हो गए, बल्कि उनके दोनों कानों के पर्दे फट गए बताए जाते हैं। उन्हें गम्भीर स्थिति में अस्पताल में भर्ती किया गया है। लुधियाना ऑर्थोपैडिक्स एसोसिएशन के प्रधान डा. हरपाल सिंह ने बताया कि 50 वर्षीय महिला अपने घुटनों की जांच के लिए आई। उपचार के बारे में बताते हुए डा. मदान ने उसे घुटने बदलवाने की सलाह दी। जब महिला ने कहा कि वह ऑप्रेशन के लिए पैसे खर्च करने में सक्षम नहीं है तो उसे इंजैक्शन लगवाने की सलाह दी गई और साथ में दवा खाने को कहा गया। इस पर महिला मरीज ने इंजैक्शन लगवाने की क्षमता से भी मना कर दिया। 

डा. हरपाल के अनुसार उस मरीज ने कहा कि उसे ऐसी दवा मिले, जिसका कोई साइड इफैक्ट न हो परंतु डा. मदान ने कहा कि खाने वाली दवाइयों के साइड इफैक्ट हैं। इस पर उक्त महिला ने डाक्टर द्वारा उसे डराने की बात कहते हुए उसकी लिखित शिकायत अस्पताल प्रबंधन को कर दी। थोड़ी देर बाद उस महिला मरीज का बेटा जो 25 वर्ष की आयु के आसपास बताया जाता है, अस्पताल पहुंच गया और मरीज देख रहे डा. जगदीप मदान को पीटना शुरू कर दिया, जिससे डा. मदान बुरी तरह जख्मी हो गए। मौके पर अस्पताल के सुरक्षा कर्मियों ने उक्त युवक को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। डा. हरपाल ने कहा कि उन्होंने जिला प्रशासन व पुलिस को उचित कार्रवाई के लिए कहा है। अगर इस मामले में उन्हें इंसाफ नहीं मिलता तो वह सारे शहर की ऑर्थोपैडिक्स सेवाएं ठप्प कर देंगे।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You