बेअदबी की घटनाओं संबंधी सरकार से इंसाफ मिलने की उम्मीद नहीं: मंड

  • बेअदबी की घटनाओं संबंधी सरकार से इंसाफ मिलने की उम्मीद नहीं: मंड
You Are HerePunjab
Tuesday, June 20, 2017-3:53 AM

जालंधर(चावला): श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही पर इन घटनाओं संबंधी सरकार से इंसाफ मिलता नजर नहीं आ रहा, जिसके मद्देनजर संगत में भारी रोष है। ये विचार आज यहां प्रैस कांफ्रैंस में गत वर्ष चब्बा में हुए सरबत खालसा दौरान थापे गए श्री अकाल तख्त साहिब के कार्यकारी जत्थेदार ध्यान सिंह मंड ने व्यक्त किए। उन्होंने गुरुद्वारा सुधार लहर चलाने का ऐलान करते हुए कहा कि इस संबंधी पंजाब के विभिन्न जिलों में मीटिंगें 22 जून से 1 अगस्त तक की जाएंगी, जिनमें ग्रंथी साहिबानों को लामबद्ध किया जाएगा और उनकी समस्याएं सुनी जाएंगी। 

उन्होंने आरोप लगाया कि अकाली सरकार ने अपनेकार्यकाल दौरान हुई बेअदबी की घटनाओं संबंधी इंसाफ देने की कोशिश नहीं की। उन्होंने कहा कि कै. अमरेंद्र सिंह ने दावा किया कि पंजाब में कांग्रेस सरकार द्वारा फोन पर सबसे पहले श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी की घटनाओं के दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी पर अभी तक आस नहीं आ रही। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि सिखों की सिरमौर संस्था शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी को कुर्बानियां देकर अस्तित्व में लाया गया था, जिसका बजट करोड़ों रुपए का है, उसके फंडों का दुरुपयोग हो रहा है, जो ङ्क्षचता का विषय है। उन्होंने कहा कि जो प्रोग्राम उलीके गए हैं वे शांतिपूर्ण ढंग से होंगे।

उन्होंने संदेह प्रकट किया कि सरकार मारपीट कर दहशत फैलाने की नीति अपना रही है। उन्होंने कहा कि गुरुद्वारों में प्रबंधों में त्रुटियों के कारण आज नौजवान पतितपुने की तरफ तेजी से बढ़ रहे हैं और पंजाब की त्रासदी है कि 60 प्रतिशत नौजवान नशों का शिकार हो चुके हैं। इस मौके पर बाबा बलजीत सिंह दादूवाल, जत्थेदार अमरीक सिंह अजनाला, सुखजीत सिंह डरोली, मनजीत सिंह रेरू इत्यादि उपस्थित थे।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!