डेंगू का प्रकोपः फिरोजपुर में140 तो अबोहर में 4 लोग गिरफ्त में

  • डेंगू का प्रकोपः फिरोजपुर में140 तो अबोहर में 4 लोग गिरफ्त में
You Are HerePunjab
Friday, October 13, 2017-7:36 AM

फिरोजपुर (कुमार, आनंद): जिले में पिछले कुछ दिनों से डेंगू का प्रकोप बढ़ गया है और फिरोजपुर के सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में आए दिन डेंगू से पीड़ित मरीजों की संख्या बढ़ रही है। लोगों के अनुसार जिले में बुखार से पीड़ित कई मरीज हैं जिनके बुखार के लक्षण डेंगू जैसे हैं।

सिविल अस्पताल फिरोजपुर में इस समय 5 मरीज डेंगू से पीड़ित हैं जिनमें एक छोटा बच्चा भी शामिल है। वहीं सिविल सर्जन डाक्टर गुरमिंद्र सिंह का कहना है कि जिले में डेंगू से पीड़ित 140 मरीजों की पहचान हुई है जिनकी हालत अभी तक स्थिर है और उनका इलाज चल रहा है। सिविल अस्पताल में एक बुखार से पीड़ित महिला कैदी को भी दाखिल करवाया गया है।

सिविल अस्पताल के स्टाफ ने बताया कि उक्त महिला कैदी को केन्द्रीय जेल फिरोजपुर से शिफ्ट किया गया है जिसके डेंगू टैस्ट अभी करवाए जाने हैं और स्टाफ द्वारा इस कैदी का इलाज शुरू कर दिया गया है। लोगों का मानना है कि शहर में और स्लम बस्तियों में मच्छर मारने के लिए दवाई का छिड़काव किया जाता था जो आजकल नहीं किया जा रहा। वही मच्छर डेंगू के प्रकोप का मुख्य कारण बन रहे हैं।  

सिविल अस्पताल की व्यवस्था से मरीज परेशान
सरकारी तंत्र के बुरी तरह से फेल होने की वजह से इस समय डेंगू के मरीजों की तादाद सरकारी अस्पतालों में बढ़ रही है। जानकारी देते हुए स्थानीय लोग कहते हैं कि वर्तमान समय की बात की जाए तो सिविल अस्पतालों में ऐसे मरीजों की संख्या ज्यादा है जिनके प्लेटलैटस या तो बहुत ज्यादा कम हो रहे हैं या फिर डेंगू जैसी बीमारियों के शिकार होने की वजह से सरकारी अस्पताल में अपना इलाज करवा रहे हैं। डेंगू से पीड़ित मरीज बताते हैं कि सिविल अस्पताल में ऐसे मरीजों के लिए कुछ च्यादा अच्छा इंतजाम नहीं है। मरीजों को एमरजैंसी में खून नहीं मिल पाता है और वे अपने परिजनों और रिश्तेदारों के सहारे ही रहते हैं।   

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!