पंजाब संकट के समय प्रकाश सिंह बादल आंतकवादियों के साथ  थे घी-खिचड़ीःकांग्रेस

  • पंजाब संकट के समय प्रकाश सिंह बादल आंतकवादियों के साथ  थे घी-खिचड़ीःकांग्रेस
You Are HerePunjab
Thursday, September 14, 2017-9:51 AM

चंडीगढ़ः वर्ष 1984 के सिख विरोधी दंगों को लेकर अमरीका में राहुल गांधी की ओर से दिए गए बयान पर प्रतिक्रिया देने पर कांग्रेस ने पूर्व डिप्टी सी.एम. सुखबीर सिंह बादल और केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर को आड़े हाथ लिया है। कांग्रेस का कहना है कि पंजाब में आतंकवाद और नशे को बढ़ावा देने के लिए बादल परिवार जिम्मेदार है। अकाली नेताओं ने राहुल पर हमला करके भाजपा की खुशामद की है।

 

पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रधान सुनील जाखड़ के नेतृत्व में कांग्रेसी विधायक ओपी सोनी, डॉ. राज कुमार वेरका, सुख सरकारिया, सुखजिंदर सिंह रंधावा ने संयुक्त बयान में कहा कि पंजाब विधानसभा के चुनाव के दौरान भी बादलों ने 1984 के दंगों का मुद्दा उठाने की कोशिश की थी। जिसे पंजाबियों ने पूरी तरह रद कर दिया था।

 

कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि 1984 के दंगों के मामलों पर लोगों को गुमराह करने मे नाकाम रहने के बावजूद अकाली-भाजपा मुसीबत में फंसते वक्त यह मुद्दा फिर उठाने की नाकाम कोशिश करते हैं। अब इन्होंने राहुल गांधी के जबरदस्त भाषण को काटने के लिए दोबारा इस मुद्दे का सहारा लेने का असफल प्रयास किया।  

 

पंजाब कांग्रेस ने कहा कि वास्तविक तथ्य यह है कि अकाली स्वयं ऑपरेशन ब्लू स्टार के संबंध में आंतकवादी खून-खराबे के लिए जिम्मेवार हैं। पंजाब के संकट के समय प्रकाश सिंह बादल आंतकवादियों के साथ घी-खिचड़ी थे। असल में प्रकाश सिंह बादल ने स्वयं तो ऑपरेशन ब्लू स्टार के दौरान लोगों को बुलाया था पर फौज के हरमंदिर साहिब पहुंचने से पहले ही वह स्वयं ही फरार हो गए थे। 

 
उन्होंने कहा कि प्रकाश सिंह बादल ने पंजाब में आंतकवाद के चरम के दौरान सुखबीर को अमरीका भेज दिया। उन्होंने कहा कि सुखबीर को इस समूचेे घटनाक्रम में अपने परिवार और पार्टी की भूमिका का जिक्र किए बिना आंतकवादी हिंसा संबंधी बात करने का कोई अधिकारी नहीं है। यहां बता दें कि सुखबीर बादल और हरसिमरत कौर बादल ने 1984 के लिए कांग्र्रेस पार्टी को जिम्मेदार ठहराते हुए राहुल गांधी पर हमला बोला था।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!