पंजाबी यूनिवर्सिटी को वित्तीय संकट से बचाने का मामला पहुंचा CM के दरबार में

  • पंजाबी यूनिवर्सिटी को वित्तीय संकट से बचाने का मामला पहुंचा CM के दरबार में
You Are HerePunjab
Tuesday, June 20, 2017-2:21 AM

पटियाला(जोसन): पंजाबी यूनिवर्सिटी पटियाला को वित्तीय संकट से निकाले जाने का मामला पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह के दरबार में पहुंच गया है।अनुसूचित जाति और पिछड़ी श्रेणी कर्मचारी फैडरेशन पंजाब के प्रांतीय नेता और पंजाबी यूनिवर्सिटी इकाई के प्रधान जतिन्द्र सिंह मट्टू ने मुख्यमंत्री के ओ.एस.डी. संदीप सिंह बराड़ के साथ पंजाबी यूनिवर्सिटी के हालातों और पंजाबी यूनिवर्सिटी पटियाला को वित्तीय संकट से निकालने के लिए ग्रांट बढ़ाने तथा यूनिवर्सिटी को रैगुलर वाइस चांसलर देने बारे चर्चा की। इस दौरान जतिन्द्र सिंह मट्टू ने संदीप बराड़ को मांग पत्र भी दिया। जतिन्द्र सिंह मट्टू ने कहा कि पंजाबी यूनिवर्सिटी पटियाला का नाम विश्व स्तर पर चमक रहा है। 

इस यूनिवर्सिटी में मालवा क्षेत्र के साथ-साथ माझा, दोआबा और विश्व भर से विद्यार्थी उच्च शिक्षा के लिए रहे हैं परंतु मौजूदा समय पंजाबी यूनिवर्सिटी क र्जे के बोझ तले दबती चली जा रही है। कर्मचारियों को वेतन देने के लिए हर महीने ओवर ड्राफ्ट उठाना पड़ रहा है। अब तक 100 करोड़ का ओवरड्राफ्ट हो चुका है जिस कारण पंजाबी यूनिवर्सिटी में काम करते अध्यापकों और कर्मचारियों को वेतन सही समय पर नहीं मिल रहा है। मट्टू ने मुख्यमंत्री से मांग की कि जल्द से जल्द सरकार द्वारा दी जाने वाली ग्रांट में बढ़ौतरी की जाए और पंजाबी यूनिवर्सिटी में रैगुलर वाइस चांसलर की नियुक्ति जल्द से जल्द की जाए।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You