सिर्फ कागजों तक सीमित है स्वच्छता अभियान

  • सिर्फ कागजों तक सीमित है स्वच्छता अभियान
You Are HerePunjab
Monday, September 25, 2017-12:43 PM

गढ़शंकर (शोरी): केंद्र सरकार द्वारा शुरू की स्वच्छता अभियान की जितनी प्रशंसा की जाए वो कम है, राज्य सरकार द्वारा इस श्रृंखला को उत्साहित करना व अपने विभागों को इस तरफ काम करने के निर्देश देना और ज्यादा सराहनीय फैसला है। 

पर यह बातें वास्तव में तभी सार्थक होंगी जब एक साधारण व्यक्ति के आसपास सरकारी तंत्र सफाई करके दिखाए, बात यहीं जिला होशियारपुर की कि जाए तो आलम यह है कि रविवार को स्थानीय प्रशासन व सरकार के साथ जुड़े राजनीतिक लोग जब स्वच्छता अभियान मना रहे थे तो उसी समय क्षेत्र में कई जगहों पर रहने वाले लोग इस प्रतीक्षा में थे कि शायद सरकारी बाबू उनके मोहल्ले की तरफ जरूर आएंगे व पिछले 6 महीने से सीवरेज के गंदे पानी में डूबे इस क्षेत्र के लोगों का हाल पूछेंगे पर ऐसा कुछ नहीं हुआ, दिन ढल गया पर वो नहीं आए।रावलपिंडी रोड पर भरे गंदे पानी का कारण सीवरेज की ब्लाकेज है, इस कारण गंदा पानी होल में से बाहर सड़कों पर फैल रहा है व लोगों को बदबूदार व दूषित माहौल में जीना पड़ रहा है।

कैप्टन सरकार नहीं दे रही ध्यान : ठेेकेदार 
पूर्व विधायक ठेकेदार सुरिंद्र सिंह ने कहा कि शहर में गंदे पानी की समस्या को देखते उनके प्रयासों से सीवरेज का काम शुरू हो गया था पर कैप्टन सरकार ने सारा अलाट फंड वापस लेकर क्षेत्र के लोगों के साथ बेइंसाफी की है। उन्होंने मांग की है कि सरकार बिना देरी सीवरेज का अधर में लटका हुआ काम पुन: शुरू करवाए।

क्या कहते हैं अधिकारी 
गढ़शंकर नगर कौंसिल के सैनेटरी इंस्पैक्टर कर्ण सिंह ने बताया कि टैलीफोन एक्सचेंज के पास सीवरेज की ब्लाकेज व बड़े नाले में गंदगी कारण हो चुकी ब्लाकेज से समस्या बनी है। उन्होंने आश्वासन दिया कि सोमवार से ही काम शुरू किया जाएगा व चंद दिनों में सारी समस्या खत्म हो जाएगी।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!