एस.एफ.सी. स्कूल जलालाबाद की 10 वैनों के काटे चालान

  • एस.एफ.सी. स्कूल जलालाबाद की 10 वैनों के काटे चालान
You Are HerePunjab
Saturday, May 20, 2017-1:50 PM

मोगा(ग्रोवर): एक तरफ जहां पिछले समय दौरान राज्य भर में स्कूली बसों से घटित हादसे दौरान अनेक घरों के चिराग बुझ गए, वहीं दूसरी तरफ सुप्रीम कोर्ट द्वारा ‘सेफ स्कूल वैन’ पॉलिसी संबंधी बनाए नियमों की अनदेखी करने वाले मोगा जिले के स्कूलों के विरुद्ध जिला ट्रांसपोर्ट अधिकारी मोगा गुरविंद्र सिंह जौहल द्वारा आज दूसरी बड़ी कार्रवाई की गई। इसके तहत एस.एफ.सी. स्कूल जलालाबाद की 10 उन वैनों के चालान काटे गए जिनके ड्राइवरों द्वारा ‘सेफ स्कूल वैन’ पॉलिसी के नियमों का पालन नहीं किया जा रहा था। यही नहीं, इनमें से 5 बसों में बड़े स्तर पर खामियां पाए जाने के कारण उनको बंद कर दिया गया। कुछ बसों के ड्राइवर नियमों का पालन करते देखे गए। यही नहीं, इससे पहले 5 मई को जिला ट्रांसपोर्ट अधिकारी द्वारा जोगेवाला के प्राइवेट स्कूल की बसों के विरुद्ध भी बड़ी कार्रवाई की गई थी। 

बसों में मिले पुराने फर्स्ट एड बॉक्स तथा सीमा पूरी कर चुके अग्निशमन यंत्र
एस.एफ.सी. स्कूल की कुछ बसों में पुराने फस्र्ट एड बॉक्स तथा सीमा पूरी कर चुके अग्निशमन यंत्र मिले। जब जिला चाइल्ड अधिकारी मैडम परमजीत कौर ने इसको देखा तो उन्होंने तुरंत उनको नष्ट करवा दिया।

आने वाले दिनों में और सख्ती की जाएगी : डी.टी.ओ.
इस संबंधी जब जिला ट्रांसपोर्ट अधिकारी गुरविंद्र सिंह जौहल ने एस.एफ.सी. स्कूल की 10 बसों के चालान काटने तथा 5 वैनों को नियमों की अवहेलना करने पर बंद करने की पुष्टि करते हुए कहा कि स्कूलों में पढ़ते बच्चों को सुरक्षित ट्रांसपोर्ट मुहैया करवाने के लिए जारी आदेशों का इन-बिन पालन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जो स्कूल मालिक इस तरफ ध्यान नहीं देते, उनके विरुद्ध आने वाले दिनों में और सख्ती की जाएगी। आगामी दिनों में और स्कूलों की चैकिंग करने का प्रोग्राम तैयार किया जा रहा है। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !