मुख्यमंत्री अमरेन्द्र ने 580 करोड़ की लागत से 1.15 लाख किसान ऋण माफी के और केसों को मंजूरी दी

  • मुख्यमंत्री अमरेन्द्र ने 580 करोड़ की लागत से 1.15 लाख किसान ऋण माफी के और केसों को मंजूरी दी
You Are HereLatest News
Thursday, January 11, 2018-11:12 AM

जालन्धर/चंडीगढ़(धवन): पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने आज 580 करोड़ की लागत से 1.15 लाख किसान ऋण माफी के और केसों को अपनी मंजूरी प्रदान कर दी है जिसके तहत उक्त राशि किसानों में 31 जनवरी 2018 से पूर्व वितरित कर दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने आज इस संबंध में सरकार के उच्चाधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद दिशा-निर्देश जारी किए। राज्य सरकार ने 7 जनवरी को किसान ऋण माफी योजना शुरू की थी जिसका शुभारंभ स्वयं मुख्यमंत्री ने करते हुए 5 जिलों के 47 हजार किसानों का ऋण माफ करने के बाद उन्हें प्रमाण पत्र जारी किए थे। सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि कैप्टन अमरेन्द्र सिंह द्वारा आज 1.15 लाख किसानों के और ऋण माफ कर देने के बाद इस योजना के तहत लाभ पाने वाले किसानों की कुल गिनती 1.6 लाख पहुंच जाएगी तथा माफ की गई राशि 748 करोड़ को छू जाएगी। 

 

सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि कैप्टन अमरेन्द्र सिंह द्वारा की गई बैठक के बाद अब किसानों को ऋण माफ करने के संबंध में प्रमाण पत्र जारी करने के लिए औपचारिकताओं को पूरा किया जाएगा। बैठक में निर्णय लिया गया कि सार्वजनिक तौर पर किसानों को प्रमाण पत्र दिए जाएं ताकि विपक्ष या कोई किसान यूनियन अपने स्वार्थी हितों के लिए किसानों को गुमराह न कर सकें।
बैठक में वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल, पंजाब कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष सुनील जाखड़, ग्रामीण विकास मंत्री तृप्त रजिन्द्र बाजवा, स्वास्थ्य मंत्री ब्रह्म महिन्द्रा का अलावा उच्चाधिकारियों ने भी भाग लिया।
 

 

वित्तीय स्थिति सुधरने पर कृषि श्रमिकों को योजना में शामिल करेंगे : कैप्टन
मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने स्पष्ट किया है कि राज्य की वित्तीय स्थिति सुधरने के बाद कृषि श्रमिकों को भी इस योजना में शामिल करके उनका ऋण माफ किया जाएगा। उन्होंने बताया कि अभी सरकार किसान ऋण माफी की प्रक्रिया को 4 चरणों में सम्पन्न करेगी जिसके तहत व्यापारिक, प्राइवेट व राष्ट्रीयकृत बैंकों के साथ-साथ सहकारी बैंकों के ऋणों को शामिल किया जाएगा। 

 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन