थर्मल प्लांट के हक में उतरे कांग्रेसी पार्षद

  • थर्मल प्लांट के हक में उतरे कांग्रेसी पार्षद
You Are HerePunjab
Friday, October 13, 2017-4:15 PM

भटिंडा (परमिंद्र): पंजाब की कांगे्रस सरकार द्वारा गुरु नानक देव थर्मल प्लांट बङ्क्षठडा को पक्के तौर पर बंद करने के विरोध में जहां मुलाजिम संगठनों द्वारा संघर्ष किया जा रहा है, वहीं अब कांग्रेस के ही कुछ पार्षद थर्मल प्लांट के हक में उतर आए हैं। कांग्रेसी पार्षदों ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह को पत्र लिखकर थर्मल प्लांट को चालू रखने की मांग की है। 

पार्षदों का कहना है कि थर्मल को बंद करने से जहां अस्थायी मुलाजिम बेरोजगार हो जाएंगे, वहीं शहर वासियों में भी रोष फैलेगा जिससे कांग्रेस सरकार की छवि पर भी विपरीत प्रभाव पड़ेगा। इसलिए गुरु नानक देव थर्मल प्लांट को बंद करने के बजाय इसे पूरी क्षमता से चलाया जाए, ताकि मुलाजिमों को बेरोजगार होने से बचाया जा सके व लोगों को पर्याप्त बिजली भी मिलती रहे। कांग्रेस के वार्ड नं. 48 के पार्षद व कांग्रेस पार्षद गुट के नेता जगरूप सिंह गिल, वार्ड नं. 30 के पार्षद रामदास हलवाई, वार्ड नं. 47 की पार्षद निर्मल कौर, कांग्रेसी नेता हरविंद्र सिंह लड्डू आदि ने कहा कि थर्मल प्लांट भटिंडा के नवीनीकरण पर हाल ही में 750 करोड़ रुपए खर्च किया गया है जिससे प्लांट की क्षमता बढ़ गई है, जबकि इसकी उम्र भी 2030 तक बढ़ गई है।

यही नहीं उक्त थर्मल प्लांट में भटिंडा से संबंधित 750 के करीब ठेका आधारित मुलाजिम काम कर रहे हैं जो थर्मल बंद होने के कारण बेरोजगार हो जाएंगे। इससे थर्मल से जुड़े अन्य व्यापार व कारोबार भी प्रभावित होंगे व लोगों में रोष फैलेगा। उन्होंने मांग की कि मुलाजिमों तथा आम लोगों की भावनाओं को देखते हुए उक्त मसले को गंभीरता से लिया जाए व थर्मल प्लांट को बंद न किया जाए। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!