एक बार फिर केंद्रीय मंत्रिमंडल में जगह बनाने से चूका अकाली दल

  • एक बार फिर केंद्रीय मंत्रिमंडल में जगह बनाने से चूका अकाली दल
You Are HerePunjab
Monday, September 04, 2017-4:21 PM

चंडीगढ़ःमोदी कैबिनेट में सिख केंद्रीय मंत्री होने के बावजूद शिरोमणी अकाली दल अपना अस्तित्व बनाए रखने में नाकामयाब हुई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  द्वारा रविवार को कैबिनेट का विस्तार किया गया। कुल 13 मंत्रियों ने पद और गोपनीयता की शपथ ली।

केंद्रीय मंत्रिमंडल में हरदीप पुरी को आवास और शहरी मामलों (स्वतंत्र प्रभार) तो एस.एस. आहलूवालिया को  पेयजल एवं स्वच्छता राज्य मंत्री का प्रभार सौंपा गया। यह दोनों नेता सिख होते हुए भी अकाली दल से जुड़े हुए नहीं है। वह भगवा पार्टी के सहयोगी हैं।

केंद्रीय मंत्रिमंडल में शिरोमणी अकाली दल से संबंधित केंद्रीय मंत्री मंत्री  हरसिमरत कौर बादल हैं। वहीं सूत्रों का कहना है कि केंद्रीय मंत्रिमंडल में अपने जगह न बना पाने के लिए अकाली दल खुद जिम्मेदार है। उन्होंने बताया कि भाजपा ने शुरू में कैबिनेट में अकाली दल के एक और सांसद को शामिल करने का इशारा किया था।  

इस संबंध में बातचीत भी की गई थी, लेकिन फिर इस पर ध्यान ही नहीं दिया गया। वहीं राज्यसभा सांसद सुखदेव सिंह ढींडसा ने कहा कि चंदूमाजार को  केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल करवाना अकाली दल की पहली पसंद थी,लेकिन फिर दोनों पार्टियों के बीच क्या हुआ उन्हें नहीं पता।  

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!