अकाली दल की कॉन्फ्रैंस में किसानों की आत्महत्या व कर्जा माफी के मुद्दे छाए

  • अकाली दल की कॉन्फ्रैंस में किसानों की आत्महत्या व कर्जा माफी के मुद्दे छाए
You Are HerePunjab
Monday, August 21, 2017-12:09 AM

लौंगोवाल(विजय, वशिष्ठ): अमर शहीद संत हरचंद सिंह लौंगोवाल की 32वीं वाॢषक बरसी के मौके पर आयोजित अकाली दल की कॉन्फ्रैंस में किसानों की आत्महत्या व कर्जा माफी का मुद्दा छाया रहा, इस दौरान पूर्व उप-मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने संत लौंगोवाल को श्रद्धांजलि भेंट करने उपरांत कहा कि पंजाब में अकाली-भाजपा गठबंधन की सरकार के समय जितनी भी सुविधाएं लोगों को दी जाती थीं, वे मौजूदा सरकार ने बंद कर दी हैं। उन्होंने कहा अकाली दल पर रेत माफिया जैसे झूठे आरोप लगाने वाली कांग्रेस पार्टी की सरकार में केवल एक ही मंत्री ने रेत के ठेके ले लिए हैं। उन्होंने कहा कि अकाली-भाजपा सरकार के कार्यकाल दौरान हुए विकास कार्यों को पंजाबी कभी भी भुला नहीं सकेंगे। किसानों के कर्जे माफ करने जैसे अन्य कई झूठे वायदे कर बनी कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में किसानों की आत्महत्या में बढ़ौतरी हुई है।  


वहीं लोकसभा मैंबर प्रो. प्रेम सिंह चन्दूमाजरा ने कहा कि राजीव-लौंगोवाल समझौते के तहत संत के साथ ठगी मारने वाली कांग्रेस पार्टी आज किस मुंह से उनका शहीदी दिवस मना रही है। उधर पंजाब के पूर्व वित्त मंत्री परमिंद्र सिंह ढींडसा ने कहा कि अमर शहीद संत हरचंद सिंह लौंगोवाल ने देश में अमन-शांति की बहाली के लिए कुर्बानी दी, उनकी कुर्बानी से ही अकाली दल पंजाब के साथ-साथ केंद्र सरकार में भी हिस्सेदार हो सका है। उन्होंने कहा कि यदि पंजाब के किसानों के कर्जे की समस्या का हल जल्दी न किया गया तो पंजाब की किसानी पर कर्जा डेढ़ गुना हो जाएगा।  उधर पूर्व मंत्री गोबिन्द सिंह लौंगोवाल ने कहा कि इतिहास गवाह है कि जब-जब भी पंजाब में कांग्रेस की सरकार बनी वह केवल झूठ के सहारे से बनी। कांग्रेस पार्टी का सफाया करने के लिए 2019 में होने वाले लोकसभा चुनावों के लिए लोग अब तैयार बैठे हैं। अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !