मीटिंग में विकास के दावों को लेकर भिड़े अकाली-कांग्रेसी पार्षद

  • मीटिंग में विकास के दावों को लेकर भिड़े अकाली-कांग्रेसी पार्षद
You Are HerePunjab
Tuesday, July 18, 2017-1:49 AM

पटियाला(राजेश,बलजिंद्र,जोसन): नगर निगम के जनरल हाऊस में हुए विकास के दावों को लेकर अकाली व कांग्रेसी पार्षद अचानक आमने-सामने हो गए। हालांकि जनरल हाऊस बहुत आराम से चल रहा था पर जैसे ही अकाली पार्षद मालविंद्र माली व बिट्टू चट्टा ने शहर के विकास का क्रैडिट अकाली-भाजपा सरकार को देते हुए धन्यवाद प्रस्ताव रखा तो कांग्रेसी पार्षद भड़क गए। 

कांग्रेसी पार्षद के.के. मल्होत्रा, विपक्ष के नेता संजीव बिट्टू ने खुल कर हंगामा किया और कहा कि अकाली दल ने विकास नहीं विनाश किया है, जिसको सुनते ही अन्य अकाली पार्षद सुखबीर अबलोवाल, जॉनी कोहली, संदीप संधू, गुरिंद्र धीमान, वरिष्ठ डिप्टी मेयर जगदीश राय चौधरी, डिप्टी मेयर हरिद्र कोहली समेत समूचे पार्षद भड़क उठे और खूब हंगामा किया। पहली बार हाऊस में पहुंचे हलका सनौर के विधायक हरिंद्र पाल सिंह चंदूमाजरा ने दखल देकर मामले को शांत करवाया।

सरकार ने शहर के 27 करोड़ पर लगाई रोक न हटाई तो सड़कों पर उतरेंगे: चन्दूमाजरा 
जनरल हाऊस में पहली बार पहुंचे हलका सनौर के विधायक हरिंद्र पाल सिंह चन्दूमाजरा ने जनरल हाऊस की मीटिंग के बाद मेयर अमरिंद्र बजाज और समूचे अकाली पार्षदों के साथ मीटिंग करने के बाद ऐलान किया कि सरकार ने यदि अकाली-भाजपा सरकार के दौरान भेजे गए 27 करोड़ रुपए पर लगाई गई रोक न हटाई तो वह समूचे अकाली पार्षदों के साथ शहर निवासियों के हितों के लिए सड़कों पर उतरेंगे। मेयर बजाज की हाजिरी में उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कै. अमरेंद्र सिंह द्वारा अपना जद्दी शहर होने के नाते मेयर और पार्षदों को बुलाकर फंड जारी करने की बजाय पहले जारी हुए फंडों पर रोक लगाना अति निंदनीय है, जिस कारण शहर की सफाई, डोर-टू-डोर कलैक्शन, सॉलिड वेस्ट मैनेजमैंट प्रोजैक्ट, स्ट्रीट लाइटें, छोटी नदी का 13 करोड़ रुपए का प्रोजैक्ट आदि सब अधूरे ही हैं। हरिंद्र पाल चन्दूमाजरा ने कहा कि मुख्यमंत्री के निजी शहर में लम्बे पावर कट लगना और फंडों पर रोक लगना अति निंदनीय है। 

इस मौके पर मेयर अमरिंद्र बजाज, सीनियर डिप्टी मेयर जगदीश राय चौधरी, डिप्टी मेयर हरिंद्र कोहली, पार्षद सुखबीर सिंह अबलोवाल, सुखविंद्रपाल सिंह मिंटा, जसपाल सिंह बिट्टू चट्टा, मालविंद्र सिंह माली, रजिंद्र विर्क, डा. रवेल सिंह, गुरिंद्र धीमान, जोगिन्द्र छांगा, संदीप संधू, अवतार हैप्पी, रछपाल धंजू, तरनजीत भाटिया, जोनी कोहली, हरबख्श चहल, बलवीर खरौड़ आदि विशेष तौर पर उपस्थित थे। 

अवैध निर्माणों पर अपने एक्शन प्लान का कमिश्नर गुरप्रीत खहरा ने किया ऐलान
शहर में हो रहे अवैध निर्माणों पर शिकंजा कसने के लिए निगम कमिश्नर गुरप्रीत सिंह खहरा ने अपने एक्शन प्लान का ऐलान करते हुए हाऊस में बताया कि सी.एल.यू. नक्शे सारे सार्वजनिक तौर पर मीटिंग में लोगों के सामने पास किए जाएंगे, बिल्डिंगों को इंस्पैक्टर के नाम पर रिकार्ड में चढ़ाया जाएगा ताकि किसी भी वाइलेशन पर संबंधित इंस्पैक्टर को जिम्मेदार बनाया जा सके। इतना ही नहीं झूठी शिकायत पर 182 की कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उन्होंने कहा कि जहां अवैध बिल्डिंगों को सील किया जा रहा है, वहीं अवैध निर्माणों पर शिकंजा कसने के लिए अवैध निर्माणों पर जुर्माना 500 रुपए से बढ़ाकर 20 हजार रुपए और पहले लिए जाते 20 रुपए जुर्माने को 500 रुपए कर दिया गया है। अवैध निर्माण करने वालों के खिलाफ केस दर्ज करवाने का भी ऐलान किया गया। 

500 नए कर्मचारी रखने का प्रस्ताव पास
जनरल हाऊस में शहर की सफाई को देखते हुए 500 नए कर्मचारी रखने का ऐलान किया गया जिनमें 200 पुरुष, 200 महिलाएं सफाई कर्मचारी और 100 सीवरमैन शामिल हैं। 

ये प्रस्ताव हुए आऊट ऑफ एजैंडा के पास
जनरल हाऊस में सोमवार को एक दर्जन के लगभग आऊट ऑफ एजैंडा प्रस्ताव लाए गए, जिनमें शहर के बिक्रम कालेज से सिविल लाइन स्कूल तक के मार्ग का नाम प्रो. गुरसेवक सिंह मार्ग रखने, टी-प्वाइंट से लेकर सूलर पुली तक मार्ग को विंग कमांडर मनदीप सिंह ढिल्लों के नाम पर और डा. एस.एस. जोली के नाम पर रखने का प्रस्ताव पास किया गया जबकि शहर में 40 पब्लिक टायलेट, फोकल प्वाइंट में सीवरेज और शहीद भगत सिंह नगर में सीवरेज डालने का भी प्रस्ताव पास किया गया। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You