Facebook बना इस भार्इ-बहन के लिए मसीहा, वजह चौंका देगी आपको

  • Facebook बना इस भार्इ-बहन के लिए मसीहा, वजह चौंका देगी आपको
You Are HerePunjab
Tuesday, July 18, 2017-11:00 AM

जालंधरः अपने अच्छे भविष्य और परिवार के पालन पोषण के लिए इटली गए नौजवान हरप्रीत सिंह को संदिग्ध हालत में लापता हुए 18 साल हो चुके हैं, जिसका कुछ पता नहीं चला। 'पंजाब केसरी' की तरफ से प्रकाशित की गई खबरें और बहन गुरप्रीत कौर के प्यार के कारण आज हरप्रीत का पता लग चुका है। हरप्रीत की बहन गुरप्रीत कौर ने 'पंजाब केसरी' के साथ बातचीत करते बताया कि हमारे माता जोगिन्द्र कौर जो शिमला रहते हैं और मेरे मामा जी की बेटी अमनदीप कौर जिसने हरप्रीत को ढूंढने की काफ़ी कोशिश की। 

PunjabKesari
गुरप्रीत ने बताया कि 'पंजाब केसरी' में लापता भाई की ख़बर प्रकाशित होने के बाद उसने सोशल मीडिया फेसबुक पर अपने भाई की आई.डी. ढूंढी और मैसेज करने शुरू कर दिए। फिर एक दिन उस आई. डी. से उसे रात 2:30 बजे फ़ोन आया। गुरप्रीत कौर ने फोन पर हुर्इ बातचीत को सांझा करते हुए बताया कि मैंने पूछा कि आप हरप्रीत बोल रहे है, उन्होंने कहा कि हां,'मैं हरप्रीत बोल रहा हूं'और 'मैंने बताया कि मैं आपकी छोटी बहन गुरप्रीत कौर' आपने पहचाना। फिर उन्होंने माता -पिता के बारे में पूछा, जब पिता की मौत की खबर उन्हें बतार्इ तो वह बहुत रोए। गुरप्रीत ने अपने भाई को बताया कि अब उसका विवाह हो चुका है और उसके 2 बच्चे भी हैं। 

PunjabKesari
गुरप्रीत ने बताया कि हमारी अब उनके साथ कई बार बात हो चुकी है कई बार तो वीडियो काल भी हो चुकी है। मेरे माता जी भी हरप्रीत के साथ बात कर चुके हैं।  उसे अपने भाई के जालंधर आने का इंतजार है अब वह जल्द ही वापस आ जाएं तांकि वह अपने भाई के गले लग कर खूब रोए । उल्लेखनीय है कि हरप्रीत सिंह 8 अगस्त 1999 को इटली चला गया था और 2 साल तक परिवार के साथ फोन पर बात होती रही लेकिन बाद में हरप्रीत का कुछ पता नहीं लगा। 

PunjabKesari

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !