सड़कों के किनारे खड़े ट्रक बुझा रहे कई घरों के चिराग

  • सड़कों के किनारे खड़े ट्रक बुझा रहे कई घरों के चिराग
You Are HerePunjab
Friday, December 15, 2017-3:40 PM

गुरदासपुर(दीपक): पंजाब की प्रमुख सड़कों पर हर दिन बेखौफ खड़े किए भारी वाहन प्रत्येक वर्ष 1 लाख से अधिक लोगों की जानें लेकर घरों के चिराग बुझा रहे हैं और यह कार्य ड्राइवरों द्वारा बिना किसी कानून की प्रवाह किए जारी है। गौरतलब है कि गुरदासपुर-दीनानगर बाईपास पर सड़क कि नारे खड़े ट्रकों के कारण कई बार बड़े हादसे हो चुके हैं। गुरदासपुर के मुख्य मार्ग गुरदासपुर-पठानकोट बाईपास, बटाला-अमृतसर बाईपास तथा शहर की विभिन्न सड़कों पर दोनों तरफ कतारबद्ध खड़े ट्रक कानून को मुंह चिढ़ाते हुए नजर आते हैं। हालांकि इन मार्गों पर हर रोज ही सैंकड़ों पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी गुजरते हैं। 


धुंध के समय ऐसे वाहन अधिक खतरनाक
सड़कों के किनारे अवैध रूप से खड़े किए गए ट्रक-ट्राले धुंध के मौसम में तो यमराज बन जाते हैं। अधिकतर वाहनों के पीछे रिफ्लैक्टर भी नहीं लगे जिस कारण धुंध के दौरान पीछे से आ रहे वाहन चालकों को वे दिखाई नहीं देते। इसका परिणाम सड़क हादसों के रूप में सामने आता है व कई लोग असमय काल का ग्रास बन जाते हैं। 

जाम का बन रहे प्रमुख कारण
सड़कों के किनारे खड़े ये वाहन हाईवे पर जाम का प्रमुख कारण बनते हैं। इस अवैध पार्किंग का खमियाजा कई बार खुद ट्रैफिक पुलिस को भी भुगतना पड़ता है। अवैध पार्किंग के कारण जाम को खुलवाना मुश्किल हो जाता है व आम लोगों को घंटों जाम में फंसे रहना पड़ता है। 

रात के समय होते हैं अधिकतर हादसे
बहुत से ट्रक ट्राला चालक ऐसे हैं जो सड़कों के किनारे अपने ट्रकों को पार्क कर खुद ढाबों में खाना खाने के लिए चले जाते हैं। यह कार्य चालक अधिकतर रात के समय करते हैं। इन द्वारा बरती जाती यह लापरवाही किसी की जान ले सकती है जिससे यह अनजान बने बैठे हैं। मगर ट्रक चालक बिना किसी की परवाह किए सड़कों के किनारों पर ट्रक पार्क कर रहे हैं। 

सड़कों पर ट्रक खड़े करने वालों के काटे जाएंगे चालान: ट्रैफिक इंचार्ज
 ट्रैफिक इंचार्ज पलविंद्र कौर का कहना है कि यह मामला उनके ध्यान में आ गया है तथा वह तुरन्त सख्ती से सड़कों के किनारों पर ट्रक खड़े करने वालों के खिलाफ कार्रवाई को अमल में लाएंगी। उन्होंने कहा कि सड़कों के किनारों पर ट्रक खड़े करने वालों को वह आज ही चेतावनी देंगी। यदि फिर भी न हटे तो उनके खिलाफ चालान काटे जाएंगे। उन्होंने ढाबे वालों को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि ढाबों के बाहर सड़कों पर ट्रक खड़े करवाए तो उनके भी चालान काटे जाएंगे। उन्होंने कहा कि अब धुंध के दिन शुरू हो गए है तथा सड़क किनारे ट्रक खड़े करना जानलेवा साबित हो सकता है।   

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन