तस्वीरों में देखे दर्दनाक हादसे का मंजर,13 टीचरों की मौत,पहले दिन होनी थी जोइनिंग

You Are HerePunjab
Saturday, December 10, 2016-10:14 AM

फाजिल्का(सेतिया/रहेजा) : गांव चांदमारी के निकट प्रात: 7.50 बजे फाजिल्का-फिरोजपुर मार्ग पर घनी धुंध के कारण सड़क हादसे में 13 लोगों की मौत हो गई, जिसके चलते उनके परिजनों के लिए आज का दिन ब्लैक फ्राइडे साबित हुआ।  13 मृतकों में से 12 फाजिल्का-फिरोजपुर मार्ग पर पडऩे वाले विभिन्न गांवों के स्कूलों में कार्यरत अध्यापक थे, जबकि 13वां क्रूजर गाड़ी का चालक था।  
इस दुर्घटना में एक अध्यापक गोपी राम घायल हो गया जिसे मैडीकल कालेज फरीदकोट के लिए रैफर कर दिया गया। मृतअध्यापकों में 5 महिलाएं व 7 पुरुष थे।
जानकारी के अनुसार 13 अध्यापक-अध्यापिकाएं फाजिल्का व अबोहर क्षेत्र से फाजिल्का-फिरोजपुर  मार्ग  पर  पडऩे  वाले विभिन्न गांवों के स्कूलों में पढ़ाने के लिए क्रूजर गाड़ी में जा रहे थे कि प्रात: करीब 7.50 बजे उनकी गाड़ी फिरोजपुर की ओर से आ रहे ट्रक से जा टकराई।

13 दिन पहले ही हुई थी तेजिंद्र कौर की शादी
जलालाबाद (सेतिया): मृतकों में एक तेजिंद्र कौर (25) के अभिभावकों ने कभी नहीं सोचा होगा कि 13 दिन पहले अपने हाथों से डोली में बिठाई बेटी की शुक्रवार की सुबह मौत हो जाएगी। तेजिंद्र कौर शिरोमणि कमेटी के 
भाई महा सिंह खालसा पब्लिक स्कूल जलालाबाद में बतौर अध्यापिका कार्यरत थी और जून महीने में ही उसने स्कूल में नौकरी शुरू की थी। 

मृतकों के परिजनों को मिलेगी नौकरी : चीमा
अबोहर (भारद्वाज): हादसे का शिकार हुए अध्यापकों के परिवारों के साथ दुख सांझा करने अबोहर आए शिक्षा मंत्री दलजीत सिंह चीमा ने कहा कि मृतकों के परिजनों को सरकारी नौकरी मिलेगी। इस संबंध में उन्होंने तुरंत शिक्षा विभाग के अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए हैं कि एक सप्ताह के भीतर इन मृत अध्यापकों के वारिसों को सरकारी नौकरी दें। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You