होशियापुर के 3 युवक लापता,परिजनों के अच्छे भविष्य के लिए भेजा था अमरीका

  • होशियापुर के 3 युवक लापता,परिजनों के अच्छे भविष्य के लिए भेजा था अमरीका
You Are HereLatest News
Monday, November 06, 2017-2:56 PM

 होशियारपुरः अमरीका से लापता हुए दोआबा क्षेत्र के लड़कों में 3 युवक मुकेरियां  से संबंधित हैं। इन युवकों एजैंट का काम करते एक पुलिस मुलाजिम की तरफ से भेजा गया था। 


बताया जा रहा है बहामस से लापता हुए यह नौजवान मुकेरियां के नजदीकी गांव पुरीका, अबदुलापुर और ब्यानपुर के साथ  संबंधित थे। गांव अबदुलापुर के नौजवान इन्द्रजीत सिंह का पिता शमशेर सिंह सेना में सूबेदार की नौकरी करता है।

उसके चाचा गुरविन्दर सिंह ने बताया कि इन्द्रजीत सिंह को अमरीका भेजने के लिए गांव महेन्दीपुर के एजैंट सुखविन्दर सिंह के साथ 35 लाख रुपए का सौदा हुआ था। उन्होंने 12 लाख पेशगी दे दिए थे।  इसी तरह मुकेरियां गांव पुरीका का सर्बजीत सिंह पुत्र जरनैल सिंह भी उनके साथ ही गया है।


सर्बजीत सिंह ने बी.ए. के बाद होटल मैनेजमेंट का भी पाठ्यक्रम किया है। उन्होंने बताया कि इनके साथ गया तीसरा लड़का गांव ब्यानपुर का गुरदीप सिंह है। इन तीनों के साथ 35 लाख का सौदा हुआ था । सभी ने 12 -12 लाख रुपए पेशगी के तौर पर दिए थे। 

उक्त तीनों युवक मई माह में दिल्ली गए थे। कुछ दिनों बाद उन्हें वहां से मॉस्को ले जाया गया। बहामस पहुंचे इन तीनों लड़कों की परिवार के साथ आखिरी बात 3 अगस्त को हुई । उसके बाद उनका कोई अता-पता नहीं चला ।युवकों के माता-पिता ने बताया कि सितम्बर माह तक तो एजैंट उनको यही कहता रहा कि सब कुछ बिल्कुल ठीक -ठाक है।

जल्दी ही उनके बेटों का फोन अमरीका से आ जाएगा। आखिरकार एजैंट सुखविन्दर सिंह ने तीनों युवकों के परिवारों को 12 -12 लाख रुपए वापिस कर दिए। इसके साथ उनको ढूंढने के लिए 13-13 लाख रुपए ओर के दिए। इसके साथ ही उसने हलफिया बयान ले लिया की अगर युवकों का कुछ पता नहीं चलता या उन्हें कुछ हो जाता है तो उसके लिए वह जिम्मेदार नहीं होगा।दोआबा क्षेत्र के करीब 20 नौजवानों के अमरीका नजदीक के बहामस टापू से लापता होने की खबर के बाद केंद्रीय विदेश मंत्रालय ने गंभीर नोटिस लिया है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!