रूस, चीन और यू.ए.ई. पंजाब में बिजली बनाने व मैट्रो रेल प्रोजैक्ट में देंगे सहयोग

  • रूस, चीन और यू.ए.ई. पंजाब में बिजली बनाने व मैट्रो रेल प्रोजैक्ट में देंगे सहयोग
You Are HereNational
Wednesday, August 09, 2017-9:37 AM

नई दिल्ली/जालंधर (धवन): रूस, चीन और यू.ए.ई. सहित विभिन्न कम्पनियों ने पंजाब के रक्षा, मैट्रो, रेल प्रोजैक्टों सहित विभिन्न क्षेत्रों में व्यापारिक इकाइयां स्थापित करने में दिलचस्पी दिखाई है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह से आज इन देशों के प्रतिनिधियों ने दिल्ली में बैठक की।  एनरगो ग्रुप कम्पनी एल.एल.सी. द्वारा राज्य में अवशेषों से बिजली बनाने में दिलचस्पी रखती है तथा उसने नवीकृत ऊर्जा प्रोजैक्टों की पेशकश की। कार्पोरेट बैंकिंग के प्रमुख विजैन सोगोमीनियन ने कहा कि रूस की कम्पनी एनरगो ने पंजाब में बड़े स्तर पर खोज की है तथा कृषि क्षमता को देखा है। यह कम्पनी पंजाब में मेक इन इंडिया के ढांचे के अधीन अवशेषों से बिजली बनाने का प्लांट स्थापित करने की संभावनाओं का पता लगाएगी। 


सबेर बैंक ने मुख्यमंत्री को बताया कि रूस की हैलीकाप्टर बनाने वाली कम्पनी भारत में भी यह सुविधा स्थापित करने में रुचि रखती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार जमीन उपलब्ध करवाने के लिए तैयार है। कई अन्य कम्पनियां भी पंजाब में डिफैंस उत्पादन इकाइयां स्थापित करना चाहती हैं। ग्रेट इगल ग्रुप के प्रशासनिक डायरैक्टर काॢतक चोपड़ा ने लुधियाना में मैट्रो प्रोजैक्ट शुरू करने के लिए चीन की रुचि बारे बताया। सरकारी प्रवक्ता ने कहा कि यू.ए.ई. को निर्यात करने के लिए फूड प्रोसैसिंग इकाइयां पंजाब में स्थापित हो सकती हैं। बैठक में राज्य के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल व अन्य अधिकारी भी मौजूद थे। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You