बैंस भाईयों का अाप से गठबंधन,5 सीटों पर लडेंगे चुनाव

You Are HerePunjab AAP
Tuesday, November 22, 2016-11:15 AM

चंडीगढ़/लुधियाना(रमनजीत सिंह):  पूर्व भाजपा सांसद नवजोत सिंह सिद्धू की अगुवाई वाले ‘आवाज-ए-पंजाब’ फ्रंट के राजनीतिक भविष्य पर लग रही अटकलें सोमवार को उस समय समाप्त हो गईं, जब इस फ्रंट से जुड़े लुधियाना के बैंस ब्रदर्स विधायकों की लोक इंसाफ पार्टी ने ‘आवाज-ए-पंजाब’ को तिलांजलि देकर आम आदमी पार्टी के साथ चुनावी गठबंधन की घोषणा की। आम आदमी पार्टी के पंजाब प्रभारी संजय सिंह व पंजाब संयोजक गुरप्रीत सिंह वडै़च के साथ संयुक्त रूप से एक पत्रकार सम्मेलन को संबोधित करते हुए बैंस बंधुओं बलविंद्र सिंह बैंस व सिमरजीत सिंह बैंस ने इस गठबंधन की घोषणा की। 
सिमरजीत सिंह बैंस ने कहा कि गत दिवस आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल के साथ भटिंडा में मुलाकात के बाद इस गठबंधन को अंतिम रूप दिया गया। गठबंधन की शर्तों के अनुसार लोक इंसाफ पार्टी आगामी विधानसभा चुनावों में 5 प्रत्याशी उतारेगी। इसके अलावा राज्य में पार्टी की सरकार बनने पर लुधियाना की इंडस्ट्री को राज्य सरकार द्वारा विशेष पैकेज दिया जाएगा जिस पर केजरीवाल ने सहमति जताई है। उन्होंने कहा कि राजनीति उनके लिए धंधा नहीं बल्कि देशभक्ति है। उन्होंने आरोप लगाया कि खुद को पंथक कहलवाने वाली बादल 
सरकार अभी तक बरगाड़ी कांड के आरोपियों को पकडऩे में विफल रही है जबकि 1984 दंगों की जिम्मेदार कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने एस.वाई.एल. का इंदिरा गांधी से नींव पत्थर रखवाकर पंजाब से गद्दारी की थी। 

‘आवाज-ए-पंजाब’ दा पै गया भोग : बैंस
‘आवाज-ए-पंजाब’ के अस्तित्व बारे पूछे गए एक प्रश्न के उत्तर में सिमरजीत सिंह बैंस ने कहा कि हुण कह सकदे हैं कि इसदा भोग पै गया है। सिद्धू के साथ न चल पाने के कारणों पर बैंस ने कहा कि वह सामाजिक रूप से उन्हें अपने बड़े भाई बलविंद्र सिंह बैंस से भी अधिक मानते हैं। बलविंद्र सिंह बैंस ने कहा कि ‘आवाज-ए-पंजाब’ के अन्य नेता व अकाली दल के पूर्व विधायक परगट सिंह से उनकी आज ही बात हुई है वह भी सोच-समझ कर ही फैसला लेंगे।

कैप्टन कबाडि़ए के रोल में: वडै़च
गुरप्रीत सिंह वडै़च ने कैप्टन अमरेंद्र सिंह पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वह मुख्यमंत्री बनने की जल्दबाजी में कबाडि़ए की तरह दूसरे दलों के नकारा व कचरा हो चुके नेताओं को पार्टी में शामिल करके उन्हें टिकट दिलवा रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक ओर जहां कांग्रेस नशे के आरोपियों को पार्टी में शामिल कर रही है वहीं आम आदमी पार्टी भ्रष्टाचार, माफिया राज व जन विरोधी नीतियों का विरोध करने वाली लोक इंसाफ पार्टी के साथ सुशासन व पंजाब की खुशहाली बहाल करने के लिए समझौता कर रही है।

पानी की कीमत मांगने की बैंस बंधुओं की मांग सही
एस.वाई.एल. मामले में बैंस बंधुओं की अन्य राज्यों राजस्थान व हरियाणा के साथ-साथ दिल्ली को सप्लाई किए जाने वाले जल की कीमत व रॉयल्टी की मांग पर पूछे गए प्रश्न के जवाब में संजय सिंह ने कहा कि इस मुद्दे पर पार्टी पहले ही अपना स्टैंड साफ कर चुकी है कि पंजाब के पास देने के लिए पानी नहीं है लेकिन संजय सिंह ने यह भी माना कि दिल्ली से पानी की कीमत या रॉयल्टी की बैंस बंधुओं की मांग जायज है।

अपने सिद्धांतों के साथ ‘आप’ ने किया समझौता
पूर्व वित्तमंत्री मनप्रीत बादल की तत्कालीन पी.पी.पी. का आम आदमी पार्टी से चुनावी समझौता इस कारण सिरे नहीं चढ़ पाया था क्योंकि पार्टी नेताओं का कहना था कि पार्टी का सिद्धांत है कि वह चुनाव में किसी दल के साथ समझौता नहीं करेगी लेकिन बदली राजनीतिक परिस्थितियों में पार्टी ने अपने इस सिद्धांत की तिलांजलि देकर लोक इंसाफ पार्टी के साथ गठबंधन किया है। हालांकि प्रदेश पार्टी संयोजक वडै़च का कहना है कि यह शर्त पार्टी संविधान में नहीं है। सैद्धांतिक तौर पर पार्टी ने अकेले चुनाव लडऩे का फैसला लिया था क्योंकि अभी तक हमें हमारी सोच वाली पार्टी नहीं मिली थी।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You